Latest News
Home > Archived > भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया, 3-0 से जीती श्रृंखला

भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया, 3-0 से जीती श्रृंखला

भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया,  3-0 से जीती श्रृंखला
X

भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया, 3-0 से जीती श्रृंखला

हरारे। भारत ने तीन एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला के आखिरी मुकाबले में जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराते हुए श्रृंखला 3-0 से जीत ली। जिम्बाब्वे ने भारत के सामने 124 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे भारतीय टीम ने 21.5 ओवरों में बिना विकेट खोए हासिल कर लिया। भारत की तरफ से लोकेश राहुल नाबाद 63 और फैज फजल ने नाबाद 55 रन की पारी खेली। भारतीय टीम ने इस जीत के साथ ही तीसरी बार जिम्बाब्वे के खिलाफ क्लीन स्वीप किया है। इसके पहले भारत ने 2013 और 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ क्लीन स्वीप किया था। भारतीय टीम ने पहला एकदिवसीय 9 व दूसरा 8 विकेट से जीता था।

जिम्बाब्वे ने भारत के खिलाफ तीसरे और अंतिम एक दिवसीय मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। धवल कुलकर्णी ने घरेलू टीम को पहला झटका दिया जब उन्होंने हेमिल्टन मसाकाद्‍जा (8) को स्लिप में केएल राहुल को आसान कैच थमाया। जिम्बाब्वे को दूसरा झटका लग सकता था, यदि बरिंदर सरन की गेंद पर युजवेंद्र चहल ने सिबांडा का आसान कैच नहीं छोड़ा होता, उस वक्त सिबांडा ने खाता भी नहीं खोला था। 19 रनों पर पहला विकेट गंवाने के बाद जिम्बाब्वे की रनगति पर अंकुश लग गया और उसके बल्लेबाज रनों के लिए तरसते हुए नजर आए।

युजवेंद्र चहल ने चामू चिभाभा को 27 रन पर कैच आउट कर दिया। चिभाभा 27 रन बनाने के बाद चहल के शिकार बने और उन्होंने जसप्रीत बुमराह को लांग ऑफ पर कैच थमाया। चहल ने सिबांडा को शून्य पर जीवनदान दिया था, लेकिन उन्होंने सिबांडा (38) को अपनी ही गेंद पर लपकते हुए पैवेलियन लौटाया। मारूमा (17) को बुमराह ने बोल्ड किया। बुमराह ने अगली गेंद पर एल्टन चिगुम्बुरा (0) को विकेटकीपर धोनी के हाथों झिलवाया। इसके बाद अक्षर पटेल द्वारा डाले गए दो गेंदों पर दो विकेट गिरे। मैल्कम वॉलर ने अक्षर की गेंद को कवर्स पर खेला और रन के लिए दौड़े, नॉन स्ट्राइकर द्वारा मना किए जाने पर वे वापस लौटते उससे पहले उन्हें रन आउट कर दिया गया। अक्षर ने अगली गेंद पर कप्तान ग्रीम क्रैमर को पगबाधा किया। इस तरह जिम्बाब्वे की टीम 89/2 की सुखद स्थिति में से 104 रनों पर 7 विकेट गंवाकर संघर्षरत नजर आई। बुमराह ने आर. मुटुम्बामी (8) को राहुल के हाथों झिलवाया।

बुमराह ने मुपारिवा के रूप में चौथा शिकार किया। तिरिपानो के रन आउट होने के साथ ही जिम्बाब्वे की पारी समाप्त हुई। बुमराह ने 22 रनों पर 4 विकेट लिए जो वन-डे में उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है। चहल ने 2 तथा अक्षर पटेल और धवल कुलकर्णी ने 1-1 विकेट लिए। भारतीय गेंदबाजों ने 4 गेंदों पर लगातार चार विकेट लिया। 33वें ओवर पांवीं गेंद पर बुमराह ने मरुमा को बोल्ड किया, जबकी छठें गेंद पर चिगुंबरा को धोनी के हाथों कैच कराया। इसके बाद 24वें ओवर में अक्षर पटेल की पहली गेंद पर वॉलर रन आउट हुए, जबकि दूसरी बॉल पर क्रेमर को पगबाधा आउट किया।

Updated : 2016-06-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top