Top
Home > Archived > लूट के बाद जागी पुलिस, सड़कों पर उतरी

लूट के बाद जागी पुलिस, सड़कों पर उतरी

लूट के बाद जागी पुलिस, सड़कों पर उतरी

आरोपियों का नहीं लगा सुराग, पुलिस हलाकान

ग्वालियर। कुछ ही घंटो में हुई तबाड़तोड़ लूट की वारदात के सुबह होते ही पुलिस सड़कों पर उतर आई और बेरीके ट्स लगाकर सघन चैकिंग अभियान चलाया। पुलिस को सड़क पर देख लोग राहत की सांस ले रहे थे पुलिस ने कुछ संदिग्धों को पकड़कर उनसे पूछताछ के बाद जाने दिया।

रविवार और सोमवार को दो बाइक सवार लुटेरों ने शहर के गोले का मंदिर, मुरार, बहोड़ापुर थाना क्षेत्रों में तबाड़तोड़ चेन लूट की वारदात कर शहर में सनसनी फैला दी थी। यकायक लूट की बढ़ती वारदात को पुलिस ने गंभीरता से लेते हुए लुटेरों को पकडऩे के लिए सुबह से ही कमर कस ली और पौ फटने से पहले ही सड़कों पर मुस्तैद होकर खड़ी हो गई। लोग जब सुबह घरों ंसे निकले तो हर चौराहे और मुख्य मार्ग पर पुलिस चैकिंग को देखकर समझ गए कि पुलिस लुटेरों को पकडऩे के लिए प्लान के साथ तैनात है।

खासकर उन स्थानों पर भारी पुलिस बल लगाया गया था जहां पर महिलाओं को लूटा गया था। गोला का मंदिर थाना क्षेत्र के इन्द्रमणी नगर में लुटेरों का शिकार बनी वृद्धा अनारश्री के घर के बाहर ही पुलिस चैकिंग कर रही थी। वेरीकेटस लगाकर संदिग्धों से पूछताछ की जा रही थी तो वहीं मुंह से नकाब बांधकर जाने वाले युवकों को भी टोका गया। इसी तरह बहोड़ापुर, मुरार, झांसी रोड थाना, फूलबाग, नदीगेट, जेल चौराहा, बाड़ा, सराफा बाजार, श्ंिादें की छावनी, अस्पताल रोड आदि स्थानों पर भी पुलिस मुस्तैदी के साथ चैकिंग कर रही थी। वहीं सीएसपी स्तर के अधिकारी भी चैकिंग पर ध्यान रखे हुए थे। चैकिंग के दौरान कोई पकड़ा नही गया लेकिन लुटेरों में खौफ अवश्य हो गया। इसी तरह पुलिस ने शाम को भी चैकिंग की।

दो आरक्षक निलंबित
झांसी रोड थाना क्षेत्र के चेतकपुरी पर भी पुलिस बल द्वारा चैकिंग की जा रही थी। पास ही खड़ी एफआरवी में दो आरक्षक हर्षलाल मीणा और फिरोज आराम फरमा रहे थे। चैकिंग पाइंटो को चैक रहे सीएसपी डीवीएस भदौरिया की नजर आरक्षकों पर पड़ गई और उनके पास जाकर ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर तत्काल वरिष्ठ अधिकरियों को अवगत कराया गया। वायरलैस सेट पर ही पुलिस अधीक्षक हरिनारायण चारी मिश्रा ने मैसेज कर दोनो आरक्षकों को निलंबित कर दिया गया। चैकिंग में लापरवाही बरतने वाले फिरोज और हर्षलाल लाइन के आरक्षक बताए गए हंै, पुलिस अधिकारी भी लूट के बाद सड़कों सुरक्षा व्यवस्था का अवलोकन कर रहे है।

फुटेज में आने के बाद भी नहीं पकड़े लुटेरे
पुलिस आधा दर्जन लूट के बाद चकरघिन्नी हो गई और लुटेरों को पकडऩे से ज्यादा वह और महिलाएं उनकी शिकार नही बन जाए उसे रोकने पर उनका ध्यान ज्यादा है। दोनो लुटेरों के सीसीटीवी कैमरे में फुटेज आए हैं , उसके बाद भी पुलिस उनको चौबीस घंटे के बाद भी सुराग नहीं लगा सकी है। मुखबिरों की मदद से उन्हे पकडऩे के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

Updated : 2016-04-06T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top