Top
Home > Archived > क्या आप जानते हैं छत्तीसगढ़ के मोगली के बारे में!

क्या आप जानते हैं छत्तीसगढ़ के मोगली के बारे में!

क्या आप जानते हैं छत्तीसगढ़ के मोगली के बारे में!

क्या आप जानते हैं छत्तीसगढ़ के मोगली के बारे में!

अभी जिस प्रकार से भारत में बच्चों की पसंदीदा फिल्म 'द जंगल बुक' जो की मोगली के जीवन पर आधारित है। आज हम आपको एक ऐसे ही शख्स के बारे में बताने वाले है जिसकी जिंदगी पूरी तरह से मोगली की जिंदगी से मेल खाती है।

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से तकरीबन 75 किमी दूर राजनांदगांव के एक हॉस्पिटल में इलाज के लिए लाए गए एक शक्स को देखकर लोग ताज्जुब कर रहे हैं। लोग इसे मोगली कहते हैं। गांव वालों के मुताबिक, पहाड़ों-जंगलों और जंगली जानवरों के बीच इन्हें रहना पसंद है। वह बंदरों की तरह एक पेड़ से दूसरे पेड़ पर लटककर पहुंच जाता है। इस शख्स का नाम है सुरेन्द्र उर्फ़ गोलू। जो राजनांदगांव के आदिवासी इलाके अड़जाल का रहने वाला है।

पिता का कहना है की वह जब छोटा था तो बचपन से जंगली जानवरों के साथ रहता था व उसे आजतक किसी भी जानवर ने किसी भी प्रकार का कोई नुकसान नही पहुंचाया है। गोलू की बहन भी उसी की ही तरह है। यह दोनों भाई बहन जंगल के पेड़ों पर चढ़ने में पूरी तरह से माहिर है। इस नक्सल प्रभावित इलाके में बहुत कम ही गाडिय़ाें का आना-जाना होता है। गोलू जब भी इन गाड़ियों को देखता है, तो खुश होकर उनसे तेज भागता है।

Updated : 2016-04-11T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top