Home > Archived > इन कारणो से हारी टीम इंडिया...

इन कारणो से हारी टीम इंडिया...

इन कारणो से हारी टीम इंडिया...
X

इन कारणो से हारी टीम इंडिया...

मुंबई। आईसीसी टी-20 विश्व कप 2016 का फाइनल वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच खेला जाएगा। वेस्टइंडीज ने गुरुवार को खेले गए दूसरे सेमीफाइनल में मेजबान भारत को सात विकेट से हराकर कोलकाता में रविवार को होने वाले खिताबी मुकाबले में खेलने की योग्यता हासिल की। भारत ने वानखेड़े स्टेडियम में टॉस हारने के बाद विराट कोहली (नाबाद 89) की बेहतरीन पारी की मदद से 3 विकेट पर 192 रन बनाए।

जवाब में खेलने उतरी कैरेबियाई टीम ने 19.4 ओवरों में तीन विकेट पर लक्ष्य हासिल कर लिया। यह पहला मौका है जब भारत टी-20 मैचों में 190 रनों से अधिक के लक्ष्य का बचाव नहीं कर सका। भारत भले वर्ल्ड कप टी-20 से बाहर हो गया हो लेकिन पूरे टूर्नामेंट में टीम इंडिया का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा है। -

मैच के आधे हिस्से तक भारत की बल्लेबाजी से ऐसा लग रहा था कि टीम इंडिया जरूर जीतेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ, क्योंकि उसके बाद ऐसा लग रहा था कि जैसे वेस्टइंडीज की टीम सिर पर कफन बांध के आई हो। भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली की बल्लेबाजी और वेस्टइंडीज के लेंडल सिमंस को नो बॉल पर जो दो मौके मिले दोनों मैच के लिए अहम रहे। मैच का रुख यहीं से बदल गया और वेस्टइंडीज के पक्ष में चला गया।

2 नो बॉल- ओवर 6.5 रविचंद्रन अश्विन ने सिमंस को गेंद फेंकी। सिमंस ने गेंद को बाउंड्री के बाहर भेजने की कोशिश की। गेंद बल्ले के बाहरी किनारे पर लगी। बुमरा ने थर्ड मैन पर डाइव लगाते हुए शानदार कैच किया। लेकिन यह क्या अश्विन का पैर क्रीज से आगे था। यह एक नो बॉल थी। यानी एक रन। हालांकि फ्री हिट पर कोई रन नहीं बना। वहीं, 15वें ओवर की आखिरी गेंद, पंड्या सिमंस को- पंड्या की ऑफ स्टंप के बाहर फुल टॉस गेंद। कमर से जरा सी नीचे इस गेंद पर सिमंस ने कवर में शॉट लगाया। अश्विन के हाथ में सीधा कैच। लेकिन यह क्या इस बार पंड्या का पैर पॉपिंग क्रीज से आगे था। एक बार फिर नो बॉल। और इस बार फ्री हिट पर सिमंस ने शानदार छक्का लगाया।

जडेजा का फाल्स कैच- ओवर 17.4 में बुमरा सिमंस ने हवा में लंबा शॉट खेला। जडेजा ने बाउंड्री पर गेंद को कैच किया। उनका संतुलन बिगड रहा था तो उन्होंने गेंद को पास ही खड़े कोहली के लिए उछाल दिया। लेकिन इससे पहले जडेजा का पैर बाउंड्री से टकरा चुका था। और यह एक लगा एक और सिक्सर। वेस्ट इंडीज जीत की राह पर और आगे बढ़ चुका था


चार्ल्स और सिमंस को रोकने में नाकाम रही टीम इंडिया और लास्ट मोमेंट में रसेल की तूफानी बैटिंग ने भारत के सपनों पर पानी फेरा।

टॉस हारना भी बडा कारण- इस मैदान पर टॉस हारना अच्छा नहीं था, क्योंकि यहां पर फॉग और ओस की अहम भूमिका रहती है। इसके बाद जब हमने बॉलिंग शुरू की तो स्पिनर्स के लिए ज्यादा कुछ करने को नहीं था। हमारे स्पिनर्स को गीली बॉल को ग्रिप करने में दिक्कत आती है। इसका तो इतिहास रहा है।

Updated : 2016-04-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top