Latest News
Home > Archived > बीहड़ों के विकास पर अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी कल से, तीन सैकड़ा कृषि वैज्ञानिक करेंगे भागीदारी

बीहड़ों के विकास पर अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी कल से, तीन सैकड़ा कृषि वैज्ञानिक करेंगे भागीदारी

नवनिर्मित प्रशासनिक भवन का भी होगा लोकार्पण

ग्वालियर। राजमाता विजयाराजे सिंधिया कृषि विश्वविद्यालय के राजा पंचम सिंह मार्ग स्थित नवनिर्मित प्रशासनिक भवन, पुस्तकालय एवं मुख्य द्वार का लोकार्पण 7 मार्च को सुबह 11.30 बजे किया जाएगा। यह जानकारी संवाददाताओं को देते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति ए.के. सिंह ने बताया कि कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में केन्द्रीय इस्पात एवं खनन मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर उपस्थित रहेंगे। जबकि अध्यक्षता किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग मंत्री गौरीशंकर बिसेन करेंगे।

वहीं विशिष्ट अतिथि के रूप में जल संसाधन मंत्री जयंत मलैया, उद्योग मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया, महिला एवं बाल विकास मंत्री माया सिंह, महापौर विवेक नारायण शेजवलकर, सांसद अनूप मिश्रा व डॉ.भागीरथ प्रसाद, विधायकगण जयभान सिंह पवैया, लाखन सिंह यादव, सत्यपाल सिंह सिकरवार उपस्थित रहेंगे। इस अवसर पर कृषि विवि द्वारा वैश्विक बीहड़ विषय पर 7 मार्च से चार दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन भी किया जाएगा। जिसमें देश-विदेश के जाने-माने लगभग 300 कृषि वैज्ञानिक हिस्सा लेंगे।श्री सिंह ने बताया कि संगोष्ठी में देश के जाने माने वैज्ञानिकों सहित 16 देशों के विख्यात कृषि एवं मृदा विशेषज्ञ वैज्ञानिक भी भाग लेंगे।

जिसमें यूएसए, अफगानिस्तान, जापान, जर्मनी, इथोपिया, श्रीलंका, नेपाल, भूटान आदि शामिल हैं। उन्होंने बताया अभी तक 10 देशों के वैज्ञानिकों के आने की सहमति भी मिल चुकी है। श्री सिंह ने बताया कि यह संगोष्ठी भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली मण्डी बोर्ड भोपाल, मृदा एवं जल संरक्षण सोसायटी देहरादून, भारतीय मृदा विज्ञान संस्थान भोपाल एवं मृदा सर्वे उपयोग प्रणाली संस्था नागपुर के संयुक्त प्रयासों से आयोजित हो रही है।

Updated : 2016-03-06T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top