Latest News
Home > Archived > मैडम! मैं आत्म हत्या कर लूंगा

मैडम! मैं आत्म हत्या कर लूंगा

ग्वालियर। मैडम, अगर मेरी कॉंपी फिर से नहीं जांची गई तो मैं आत्महत्या कर लूंगा। परिवार वालों ने मेरी फीस भी बड़ी मुश्किल से भरी है। आपको नहीं पता मैं कितनी दूर से यहां आया हूं और और उसके बाद भी मेरी समस्या का निराकरण नहीं हो पा रहा है। इससे तो अच्छा होता कि मैं रीवा में ही किसी महाविद्यालय में प्रवेश ले लेता।कम से कम मुझे इतना परेशान तो नहीं होना पड़ता। यह बात बुधवार को जीवाजी विवि परिसर में बीएड के एक छात्र ने प्रो. राधा तोमर एवं प्रो. सुशील मन्डेरिया से बड़े दुखी मन से कही।

रीवा से आए बीएड के छात्र सुरेश कुमार पटेल का कहना था कि उन्होंने वर्ष 2014-15 में बीएड की परीक्षा दी थी, लेकिन उन्हें दो विषयों में फेल कर दिया गया, जब वह री-ओपनिंग का फार्म भर कर कॉपी देखने गया तो देखा कि हिन्दी विषय में उसे 26 अंक मिले थे, लेकिन उन्हें सिर्फ 20 अंक ही दिए गए, साथ ही मनोविज्ञान विषय में उसकी कॉपी पूरी नहीं जांची गई, जिसके कारण वह फेल हो गया। छात्र की समस्या सुनने के बाद श्रीमती तोमर ने छात्र को परीक्षा नियंत्रक के पास भेज दिया।

Updated : 2016-03-31T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top