Home > Archived > पानी का करें सही उपयोग : सुधीर गर्ग

पानी का करें सही उपयोग : सुधीर गर्ग

रोजगार सृजन हेतु विभाग बनाएं सामंजस्य


झांसी। प्रदेश के खाद्य एवं रसद विभाग के प्रमुख सचिव सुधीर गर्ग ने कहा कि बुन्देलखण्ड की तरक्की मुख्यमंत्री जी की विशेष प्राथमिकता में है। यहां बिजली, रोजगार सृजन, खाद्यन्न वितरण एवं पशु चारा पर विशेष जोर दिया जाए। बुन्देलखण्ड के लिये यह कठिन वर्ष है क्योंकि पानी की उपलब्धता न होने से पलेवा नहीं हो सका जिस कारण गेहंू व तिलहन में बुवाई का क्षेत्रफल कम रहा। क्षेत्र में धान की फसल को प्रोत्साहित न करें क्योंकि इसमें अधिक पानी की आवश्यकता होती है। जनपद में टीम तैयार कर पानी का सही उपयोग के लिये प्रयास किया जाना होगा सभी विभागों के सामजंस्य से क्षेत्र में रोजगार सृजन हेतु अधिक से अधिक कार्य करायें। कौशल विकास मिशन अंतर्गत ऐसी विधाओं में प्रशिक्षण दिया जाये जो जनमानस से सीधे जुड़ी हों।
जनपद के प्रभारी प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद सुधीर गर्ग ने आज यहां विकास कार्यों के साथ लाभपरक योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। समीक्षा के दौरान उन्होने कार्यदायी संस्थाओं को निर्देश दिये कि निर्माण कार्य निश्चित समयावधि में पूर्ण कराया जाए, यदि कार्य पूर्ण नहीं किया जाता है तो संबंधित ठेकेदार को कालीसूची में डाला जाए। निर्माण कार्य में गति लायें। उन्होने कहा कि नई तकनीकी के साथ काम करे तो काम जल्द होगा। प्रमुख सचिव सुधीर गर्ग ने कर करेत्तर की वसूली समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि वसूली में तेजी लायें। व्यापार कर विभाग की समीक्षा के समय उन्होने वसूली बढ़ाने के निर्देश दिए। परिवहन विभाग को भी उन्होने लक्ष्य के सापेक्ष वसूली बढ़ाने के निर्देश दिए, उन्होने कहा कि आप प्रयास करें। समग्र ग्राम की समीक्षा करते हुये उन्होने विभागों से कहा कि मैं से निकलकर हम में आयें तभी कार्य समय से पूर्ण होगें। सभी विभाग आपसी सहयोग से संतृप्तीकरण के कार्य पूर्ण करें। उन्होने गुणवत्ता को भी सुनिश्चित किये जाने के स्पष्ट निर्देश दिए। उन्होने क्षेत्र में रोजगार के सृजन पर अधिक ध्यान दिये जाने के निर्देश दिये और कहा कि मनरेगा में ऐसे कार्यों को चिन्हित करें ताकी रोजगार मिल सके। उन्होने कौशल विकास के अंतर्गत सिलाई प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थियों को स्कूल यूनीफार्म सिलवाये जाने के निर्देश दिये साथ ही उन्होने समूह को भी यूनीफार्म सिलाने के लिये सुझाव दिया। उन्होने सुझाव दिया कि घर के काम करने वालों को प्रशिक्षित करें तो सीधा लाभ होगा क्योंकि अन्य विधाओं में प्रशिक्षण लेने वालों को रोजगार प्राप्त होने में अधिक समय लगता है।
घरेलू काम के लिये भी प्रशिक्षित करे तो लाभ होगा। इस मौके पर जिलाधिकारी अनुराग यादव, सीडीओ संजय कुमार, ज्वाइंट मजि. निखिल, एडीएम उमेश नारायण, एडीएम रमाशंकर गुप्ता, सीएमओ डा. विनोद यादव उपस्थित रहे।

Updated : 2016-02-03T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top