Latest News
Home > Archived > भाराछासं नेता की सिर में गोली लगने से मौत

भाराछासं नेता की सिर में गोली लगने से मौत

भाराछासं नेता की सिर में गोली लगने से मौत
X

जेब में कारतूस, शव के पास कट्टा मिला, हत्या या आत्महत्या में उलझी पुलिस

ग्वालियर। एनएसयूआई नेता की सिर में गोली लगने से मौत हो गई। पुलिस को घटनास्थल से एक तमंचा और मृतक की जेब से कारतूस बरामद हुआ है। मौत की बजह निजी परेशानी बताई जा रही है, अभी हाल ही में उसका संबंध पक्का हुआ था। पुलिस ने शव का अंत:परीक्षण करवा कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया।
जानकारी के अनुसार थाटीपुर थाना क्षेत्र अन्तर्गत माधवराव सिंधिया एनक्लेब में रहने वाले इंजीनियर सरदार सिंह भदौरिया के बेटे अनुराग भदौरिया बुधवार-गुरूवार की दरम्यानी रात को खून से लथपथ मिला। परिजन व दोस्त अनुराग को उसी हालत में मोटरसाइकिल पर एक निजी अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलते ही पुलिस जब घटना स्थल पर पहुंची तो वहां पर उसे 315 बोर का कट्टा व मृतक की जेब से एक कारतूस मिला।

परिजनों ने बुलाया देव को
देव ने बताया कि थोड़ी देर बाद जब उसके घर से फोन आया और उन्होंने अनुराग के विषय में पूछा तो उसने उन्हें बताया कि मैं उसे घर पर ही छोड़ कर आया हूं। इस पर उन्होंने मुझे उसे तलाश करने के लिए बुलाया। मैं घर पर पहुंचा और उसके बड़े भाई के साथ उसी स्थान पर पहुंचा जहां पर मैने उसे छोड़ा था। जब उसके फोन पर सम्पर्क किया तो पास ही की झाड़ी से उसके मोबाइल की घंटी सुनाई दी। जब वहां जाकर देखा तो अनुराग खून से लथपथ हालत में पड़ा हुआ था। इसके बाद उसे उठाकर अस्पताल लेकर पहुंचे जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
हैंडस्वाव करवाया पुलिस ने
पुलिस ने मृतक के हाथों का हेण्ड स्वाव करवाया, लेकिन सूत्र बता रहे हैं कि जो कट्टा वहां पर मिला उसके फिंगर पिं्रट नहीं लिए गए। उसका कारण उस कट्टे को उठाते समय सावधानी नहीं बर्ती गई और उसे खाली हाथों से ही उठा लिया गया। लेकिन पुलिस ने अन्य सबूत एकत्रित किए हैं, फोन की कॉल डिटेल निकलवाकर पता लगाया जाएगा कि वह किससे बात कर रहा था। अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही यह खुलासा हो सकेगा कि मृतक की हत्या की गई है कि उसने आत्म हत्या की है।

अधिक शराब व महिला दोस्त बनी मौत का कारण
बताया गया है कि बुधवार की रात को अनुराग ने शराब पी रखी थी। जिस कारण से परिजनों ने उसे बाहर जाने से रोका था। लेकिन उसे अपने महिला मित्र की बड़ी बहन के विवाह समारोह में शामिल होने जाना था। वह अपने दोस्त देव शर्मा के साथ विवाह समारोह में चला गया। देव ने बताया कि इसके बाद अनुराग ने और शराब पीने की इच्छा जाहिर की। तब वह थाटीपुर स्थित शराब के ठेके पर पहुंचे। लेकिन वह बंद हो चुका था इसके बाद वह दोनों छप्परवाला पुल पर स्थित बियर-बार पर आ गए और यहां पर उन्होंने बियर पी। देव ने बताया कि अनुराग के फोन पर लगातार घर से फोन आ रहा था और उधर किसी महिला मित्र के भी फोन आ रहे थे। इसके बाद अनुराग ने घर छोडऩे के लिए कहा। जब वह कॉलोनी के पास पहुंचा तो उसने पीपल के पेड़ के नीचे उतारने को कहा कि यदि तुम घर तक छोडऩे जाओगे तो पापा तुम्हें भी डाटेंगे। इसके बाद देव उसे पीपल के पेड़ के नीचे उतार कर वापस चला गया,लेकिन उस समय वह किसी महिला से फोन पर बात कर रहा था।

इनका कहना है
पुलिस ने घटना स्थल से सबूत एकत्रित किए हैं, मृतक के हाथों का हैंडस्वाव भी करवाया है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति साफ हो सकेगी।
अखिलेश रेनवाल, नगर पुलिस अधीक्षक मुरार

Updated : 2016-02-19T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top