Top
Home > Archived > सात देशों के प्रतिनिधियों ने जीएलए को सराहा

सात देशों के प्रतिनिधियों ने जीएलए को सराहा

सामाजिक उद्यमशीलता से होगा विश्व का विकास-मिरान

मथुरा। सामाजिक उद्यमशीलता और युवा बेरोजगारी जैसे क्षेत्रों पर कार्य कर रहे सात देशों स्लोवेनिया, चीन, वियतनाम, फिलीपींस, भारत, नेपाल और आईबरी कोस्ट के अलग-अलग गैर-सरकारी संस्थाओं के 15 विशेष प्रतिनिधियों ने सोसायटी फॉर कल्चर यूथ एण्ड पीस के माध्यम से जीएलए विश्वविद्यालय का भ्रमण कर ब्रज की सांस्कृतिक विरासत, आर्थिक सुदृढ़ता और सामाजिक ढाँचे के बारे में जानकारी प्राप्त की।
यह सभी गैर-सरकारी संस्था यूरोपियन यूनियन के 'इरासमस प्लसÓ द्वारा वित्तपोषित अन्र्तराष्ट्रीय प्रोजेक्ट पर कार्य कर रहे हैं। इस प्रोजेक्ट के माध्यम से यह सभी गैर-सरकारी संस्थाऐं यह प्रयास कर रही है कि किस प्रकार उद्यमशीलता को बढ़ावा दिया जा सके ताकि आज का युवा नौकरी पाने के बजाय नौकरी देने के क्षेत्र में आगे बढ़ सके। इन सभी देशों के प्रतिनिधि भारत के सांस्कृतिक, आर्थिक और सामाजिक पहलुओं का अध्ययन करने के लिए पिछले एक सप्ताह से भारत में हैं।
जीएलए विश्वविद्यालय के निदेशक डॉ0 अनूप कुमार गुप्ता ने विस्तृत रूप से विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डालते हुए बताया कि किस प्रकार शिक्षा के क्षेत्र में सामाजिक उद्यमशीलता के अन्तर्गत 240 विद्यार्थियों और 17 अध्यापकों के साथ 1998 में जीएलए की स्थापना की गयी और 17 साल के छोटे से समयान्तराल में जीएलए विश्वविद्यालय 9000 विद्यार्थियों का भविष्य संवार रहा है।
प्रो0 निर्भय मिश्रा ने बताया कि सभी प्रतिनिधियों ने गहन तरीके से विश्वविद्यालय के विभिन्न संस्थानों का भ्रमण करते हुए सर्वेक्षण किया और वहाँ उपलब्ध सुविधाओं, प्रयोगशालाओं व तकनीकी का अध्ययन करते हुए संस्थानों के शिक्षकों व विद्यार्थियों से विचार विनिमय किया। प्रो0 मिश्रा ने बताया कि सभी प्रतिनिधियों ने विश्वविद्यालय द्वारा दी जा रही उच्च शिक्षा एवं सुविधाओं की भूरि-भूरि प्रशंसा की, साथ ही जीएलए विश्वविद्यालय के उच्च मानकों को देखते हुए वियतनाम से आये दुस्तोव जोजा और स्लोवेनिया के मिरान ने जीएलए विश्वविद्यालय के साथ भविष्य में शिक्षा एवं सांस्कृतिक स्तर पर जुडऩे की इच्छा जाहिर की है।
सोसायटी फॉर कल्चर यूथ एण्ड पीस के अध्यक्ष डॉ0 आलोक झा ने बताया कि इरासमस प्रोग्राम यूरोपीय विश्वविद्यालयों के विद्यार्थियों को
शेष पृष्ठ 5 पर

Updated : 2016-02-17T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top