Latest News
Home > Archived > भाजयुमो की बैठक-समर्पण दिवस, किसान महासम्मेलन व राष्ट्रीय अधिवेशन की बनी रूपरेखा

भाजयुमो की बैठक-समर्पण दिवस, किसान महासम्मेलन व राष्ट्रीय अधिवेशन की बनी रूपरेखा

भोपाल। भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारियों, जिला अध्यक्ष-महामंत्रियों की संयुक्त बैठक में प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने स्मरण दिलाया कि दुनिया में क्रांतियों के सूत्रधार युवक हुए है। आद्य गुरू शंकराचार्य ने देश को सांस्कृतिक एकता के सूत्र में गुंफित किया। स्वामी विवेकानंद ने विश्व में भारत की सांस्कृतिक समृद्धि का संदेश दिया। 2014 लोकसभा चुनाव में देश की युवा शक्ति ने जन आकांक्षा को पहचान कर नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश को एक दूरदर्षी राष्ट्रवादी सरकार दी। जिन्होनें देश में आजादी के बाद सबसे क्रांतिकारी परिवर्तन आर्थिक क्षेत्र में, कृषि के क्षेत्र में और अन्य क्षेत्रों में लाने के लिए कर्म संस्कृति को निखारा। उन्होनें कहा कि 18 फरवरी को शेरपुर सीहोर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आमंत्रण पर पधारेंगे और प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के रूप में देश के किसानों को उपहार देंगे। इस कार्यक्रम में पहुंचना और नरेन्द्र मोदी के उदबोधन को सुनने गौरवशाली क्षण होंगे। युवा मोर्चा किसान महासम्मेलन को सफल बनाने में जुट जावे। उन्होनें कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव के पूर्व जनता को भरोसा दिलाया था कि किसानों को बीमा के रूप में कवच दिया जायेगा। शिवराज सिंह चौहान ने मानस मंथन करके जो आर्थिक कवच किसानों को संभव था, इसमें समाहित कराया है। उन्होनें युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि वे पार्टी का भविष्य है, आगामी दायित्व के लिए अपने आप को अभी से सज्जित करें। पार्टी का राष्ट्रीय और प्रादेषिक स्तर पर नेतृत्व का आज जो स्वरूप दिखाई देता है, वह युवा मोर्चा के कार्यकर्ता के रूप में ही निखरा है। राजनाथ सिंह से लेकर शिवराजसिंह चौहान, नरेन्द्रसिंह तोमर युवा मोर्चा की ही देन है।

Updated : 2016-02-10T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top