Latest News
Home > Archived > मुख्यमंत्री ने किया किसानों का सम्मान

मुख्यमंत्री ने किया किसानों का सम्मान

अन्नदाताओं के श्रम से प्रदेश हुआ समृद्ध

भोपाल। मध्य प्रदेश को लगातार चौथी बार कृषि कर्मण अवार्ड मिलने पर प्रदेश के किसानों का सम्मान समारोह रविवार शाम को मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित किया गया।
समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री गौरीशंकर बिसेन, वित्त मंत्री जयंत मलैया, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव एवं अंतर सिंह आर्य भी मौजूद रहे। समारोह में उन किसानों का सम्मान किया गया, जिन्होंने उत्पादकता और उत्पादन बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। सम्मान-स्वरूप किसानों को 50 हजार की राशि दी गई। इसके साथ ही उन विभाग को भी सम्मानित किया गया, जिनके सहयोग से प्रदेश में खेती-किसानी समृद्ध हुई। कृषि के क्षेत्र में महत्वपूर्ण उपलब्धियां पिछले 10 वर्ष में रही हैं।
मुख्यमंत्री की नीतियों और उनके एजेंडे में किसान-कल्याण सर्वोच्च प्राथमिकता में होने से प्रदेश की कृषि विकास दर मात्र 4 वर्ष में 14.76 प्रतिशत से बढ़कर 20.11 प्रतिशत पर पहुंच गई। इसके कारण प्रदेश को वर्ष 2011-12, 2012-13 और वर्ष 2014-15 में पूरे देश में सर्वाधिक खाद्यान्न उत्पादन के लिए कृषि कर्मण अवार्ड मिला और वर्ष 2013-14 में गेहूं उत्पादन में अवार्ड प्राप्त हुआ। सरकार की नीतियों और किसानों की मेहनत के साथ ही कृषि कार्य से जुड़े मैदानी अधिकारी-कर्मचारियों की कोशिशों से यह महत्वपूर्ण उपलब्धि पाना संभव हुआ।
10 वर्ष में आए क्रांतिकारी बदलाव
मध्य प्रदेश में पिछले 10वर्ष में खेती के क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव आए हैं। कृषि विकास दर में सालाना वृद्धि होने के साथ ही आज प्रदेश दलहन तथा तिलहन उत्पादन में पहले नंबर पर और संपूर्ण खाद्यान्न उत्पादन में दूसरे नंबर पर है। कृषि उन्मुखी नीतियों और किसानों की लगन एवं कड़ी मेहनत से प्रदेश सोयाबीन एवं चना उत्पादन में पहले नंबर पर, मसूर, सरसों उत्पादन में दूसरे नंबर पर है। विगत 10 वर्ष में प्रदेश में मक्का उत्पादन में दोगुना, गेहूं उत्पादन में तीन गुना तथा धान उत्पादन में चार गुना की वृद्धि हुई है। एक दशक में कृषि क्षेत्रफल में 39 लाख हेक्टेयर की बढ़ोत्तरी हुई है।
19 किसान, 25 विभाग पुरस्कृत
कृषि कर्मण अवार्ड में 10 जिले के 19 किसान को सम्मानित किया गया। इनमें आत्मा परियोजना में कृषि क्षेत्र के विस्तार के लिए 10 कृषक, जो मुरैना, देवास, नीमच, नरसिंहपुर, हरदा और धार जिले के हैं, जिन्हें राज्य स्तरीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इसी तरह 5 जिले के 9 कृषक जिला-स्तरीय कृषक पुरस्कार से सम्मानित किए गए। राज्य-स्तरीय पुरस्कार प्राप्त कृषकों को 50 हजार तथा जिला-स्तरीय पुरस्कार प्राप्त कृषकों को 25 हजार रुपए दिए गए।

Updated : 2016-02-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top