Latest News
Home > Archived > मंडियों में दाल की कीमतें नीचे आईं

मंडियों में दाल की कीमतें नीचे आईं

मंडियों में दाल की कीमतें नीचे आईं
X


नई दिल्ली।
बंपर पैदावार, सस्ता इंपोर्ट, नोटबंदी और स्टॉक लिमिट के चलते दाल की कीमतें जमीन पर आ गई हैं। देशभर की मंडियों में कीमतें तेजी से नीचे आ रही हैं। अगले महीने से नई अरहर की आवक जोर पकड़ेगी और इससे पहले देश की ज्यादातर मंडियों में ये एमएसपी के भी नीचे आ गई है।

अकोला में खड़ी अरहर का भाव 4800 रुपए प्रति क्विंटल पर आ गया है, जबकि इंदौर में दाम 4500 रुपए पर आ गया है। गुलबर्गा में 5300 रुपए प्रति क्विंटल, मुंबई (इंपोर्टेड) में 4000 रुपए पर आ गया है। वहीं खड़ी उड़द का दाम दिल्ली में 6500 रुपए प्रति क्विंटल, इंदौर में 4300 रुपए प्रति क्विंटल और मुंबई में 6800 रुपए प्रति क्विंटल चल रहा है। थोक बाजार में तो कई जगह अरहर का दाम एमएसपी के नीचे आ गया है। बंपर पैदावार के अनुमान से कीमतों पर दबाव है। साथ ही पश्चिम भारत में नई अरहर की आवक शुरू हो गई है। पहली बार 2 करोड़ टन पैदावार का अनुमान है।

सस्ते इंपोर्ट से भी कीमतों पर दबाव बना है। रबी सीजन में 130 लाख टन और खरीफ सीजन में 87 लाख टन दाल की पैदावार का अनुमान है, और इस तरह इस साल 217 लाख टन दाल के पैदावार की संभावना है। भारत में सालाना करीब 2.5 करोड़ टन दाल की खपत है और देश में औसत 1.7 करोड़ टन दाल की पैदावार होती है। इस साल पहली बार 2 करोड़ टन से ज्यादा पैदावार की उम्मीद है।

Updated : 2016-12-13T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top