Latest News
Home > Archived > भावी आर्किटैक्ट निर्माण तकनीक से हुए रू-ब-रू

भावी आर्किटैक्ट निर्माण तकनीक से हुए रू-ब-रू

जीएल बजाज के बी.आर्क छात्रों ने किया चंडीगढ़ का शैक्षणिक भ्रमण

मथुरा। छात्रों की बौद्धिक क्षमता एवं कार्यकुशलता में निखार लाने के वास्ते जीएल बजाज ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशंस के बी.आर्क छात्रों ने मानव निर्मित टाउन प्लानिंग के जीवंत उदाहरण के रूप में विद्यमान एवं फ्रेंच आर्किटैक्ट लोकावोजियर द्वारा डिजाइन किये गये प्रसिद्ध शहर चंडीगढ़ का दो दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण किया। छात्र-छात्राओं ने अपनी कक्षाओं में सीखे हुए टाउन प्लानिंग, बिल्डिंग डिजाइन्स, लैण्डस्केप डिजाइन्स आदि ज्ञान को एक नवीन आयाम तथा और अधिक परिपक्वता प्रदान करने के उद्देश्य से चंडीगढ़ की ऐतिहासिक व आधुनिक इमारतों की भव्यता का बारीकी से अवलोकन करते हुए इनका चित्रांकन भी किया।
इस भ्रमण में छात्रों ने जाकिर हुसैन रोज गार्डन, सुखाना लेक, टैगोर थियेटर, पंजाब हरियाणा असेम्बली, हरियाणा सचिवालय, राजकीय आर्ट संग्रहालय, पंजाब उच्च न्यायालय, नेहचन्द्र राक गार्डन और चंडीगढ़ कालेज आफ आर्किटैक्चर आदि भवनों की निर्माण तकनीक को करीब से देखा। उल्लेखनीय है कि फ्रेंच आर्किटैक्ट लोकावोजियर द्वारा 1948 में डिजाइन किया गया शहर चंडीगढ़ टाउन प्लानिंग की बेहतरीन तारतम्यता एवं संयोजन का जीता जागता उदाहरण है। जहाँ सारी सडक़ें एक-दूसरे को समकोण पर काटती हैं एवं पूरा शहर सेक्टरों में विभाजित है। अलग-अलग सेक्टर होने के बावजूद सभी सेक्टर एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं।
इस पूरे भ्रमण के दौरान बी.आर्क छात्रों ने इतिहास की खूबसूरती के बचे हुए गवाहों को न केवल देखा बल्कि उन मूक गवाहों के वर्तमान पीढ़ी को दिये जा रहे संदेशों को समझा और महसूस किया।
आरके एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने कहा कि शैक्षणिक भ्रमण से प्राप्त ज्ञान हमेशा जीवंत रहता है। छात्रों के लिए कक्षाओं में बैठकर स्थापत्य कला की बारीकी को समझना कठिन है लिहाजा इस तरह के शैक्षणिक भ्रमण से वह बहुत कुछ सीख सकते हैं। जीएल बजाज के निदेशक डा. एसआर चौधरी ने छात्रों से मुखातिब होते हुए कहा कि संस्थान का हमेशा से प्रयास रहा है कि आर्किटेक्ट छात्रों की सृजनात्मक क्षमता को शैक्षणिक भ्रमण के माध्यम से निखारा जाए। इसके लिए संस्थान अपने छात्रों को बेहतरीन आधुनिकतम संसाधन उपलब्ध करा रहा है जिसका असर हमें साफ-साफ छात्रों द्वारा बनाई गई इन सृजनात्मक कृतियों पर दिखाई देता है।

Updated : 2016-11-28T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top