Top
Home > Archived > हाईटेक होगी भारत-पाक की सीमा सुरक्षा, फेंसिंग के स्थान पर बनेगी ऊंची दीवार

हाईटेक होगी भारत-पाक की सीमा सुरक्षा, फेंसिंग के स्थान पर बनेगी ऊंची दीवार

हाईटेक होगी भारत-पाक की सीमा सुरक्षा, फेंसिंग के स्थान पर बनेगी ऊंची दीवार

नई दिल्ली। पाकिस्तान के साथ बढ़ते तनाव के बीच भारत ने तय किया है कि पड़ोसी देश से सटी सीमा पर फेंसिंग के स्थान पर ऊंची दीवार बनाई जाएगी। इस तरह पाकिस्तान से सटी सीमा को पूरी तरह सील कर दिया जाएगा।

सूत्रों के मुताबिक, भारत सरकार ने इस आशय का फैसला कर लिया है और जल्द ही इस पर अमल शुरू हो जाएगा। सरकार चाहती है कि भारत-पाक सीमा को इजराइल-फलिस्तीन सीमा जैसा बना दिया जाए।
इस बीच लगातार सात दिन से नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन करने वाली पाक सेना ने जम्मू, राजौरी और पुंछ जिलों के सीमांत इलाकों में गोलीबारी करने के साथ जमकर मोर्टार दागे। इसकी चपेट में आने से पुंछ व अखनूर में सेना के छह जवान घायल हो गए।

पाकिस्तानी सेना ने गुरुवार को नौशहरा के कलसियां, कलाल व पुंछ के कृष्णा घाटी व बलनोई सेक्टर में गोलाबारी की। इसमें भारतीय सेना के चार जवान घायल हो गए। तीन जवानों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें कमान अस्पताल ऊधमपुर रेफर कर दिया गया है।

रेफर किए गए जवानों में नायक धनु कुमार, सिपाही श्रीधर व नायक दिनेश कुमार शामिल हैं। चौथे जवान का उपचार स्थानीय सैन्य अस्पताल में चल रहा है। वहीं, जम्मू के अखनूर के केरी सेक्टर में हुई गोलाबारी में घायल सेना के दो जवानों में 6 मद्रास के जवान आर सिल्वा कुमार व बाबू राम शामिल हैं।

पाकिस्तानी सेना लगातार सीमा पार से भारतीय सेना की कई चौकियों को निशाना बनाकर गोलाबारी कर रही है। गुरुवार सुबह ग्यारह बजे के बाद पाकिस्तानी सेना ने कृष्णा घाटी सेक्टर के अलावा प्लांवाला व केरी सेक्टरों में लांवाला में नियंत्रण रेखा से सटे छन्नी दवानों, गिगरियाल, बदवाल, पंजतूत, पलाटन, हमीरपुर, गढ़ खौड़ इलाकों में गोले बरसाए।

भारतीय सेना ने भी पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया। पाकिस्तान गोलाबारी से सीमांत क्षेत्रों में दहशत का माहौल है। करीब एक लाख लोग गोलाबारी से प्रभावित हैं। केवल अखनूर क्षेत्र में ही साठ हजार ग्रामीण बेघर हो गए हैं।

Updated : 2016-10-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top