Latest News
Home > Archived > भर्ती परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थियों को पकडऩे वाले छह शिक्षक सम्मानित

भर्ती परीक्षा में फर्जी परीक्षार्थियों को पकडऩे वाले छह शिक्षक सम्मानित

तकनीकी शिक्षा मंत्री ने दिया सम्मान निधि का चेक

भोपाल। व्यवसायिक परीक्षा बोर्ड की भर्ती परीक्षाओं में फर्जी तरीके से परीक्षा दे रहे अभ्यर्थियों को पकडऩे वाले 6 शिक्षक (वीक्षक) को उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने सम्मानित किया। इसमें एक लाख रुपये और प्रशस्ति-पत्र देने का प्रावधान है, लेकिन वीक्षक एक से अधिक होने पर राशि आपस में विभाजित कर दी जाती है। श्री गुप्ता ने कहा कि कम से कम 50 हजार रुपये प्रत्येक वीक्षक को मिलना चाहिए। तदनुसार बोर्ड द्वारा तुरंत बढ़ी राशि का चेक वीक्षकों को दिया गया। श्री गुप्ता ने वनरक्षक भर्ती परीक्षा-2015 में परीक्षा केन्द्र शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सतना में फर्जी परीक्षार्थी को पकड़वाने वाले सुशील पाण्डेय, रहमत अली और दीपक चौरसिया को 50-50 हजार रुपये का चेक और प्रशस्ति-पत्र दिया। वन रक्षक भर्ती परीक्षा-2015 में ही परीक्षा केन्द्र एल.एन.सी.टी. कालेज में फर्जी परीक्षार्थी को पकडऩे वाले अंशुल सरावगी तथा प्रशांत पाण्डेय को 50-50 हजार रुपये और जेल प्रहरी भर्ती परीक्षा-2015 में परीक्षा केन्द्र श्री राम इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एण्ड टेक्नालॉजी जबलपुर में परीक्षार्थी पकडऩे वाले वीक्षक सुनील रक्षित को एक लाख रुपये की सम्मान राशि का चेक और प्रशस्ति-पत्र दिया गया।

Updated : 2016-01-30T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top