Top
Home > Archived > दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट के पास दिखा गुब्बारा मौसम विभाग का निकला

दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट के पास दिखा गुब्बारा मौसम विभाग का निकला

दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट के पास दिखा गुब्बारा मौसम विभाग का निकला
X


नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय (आईजीआई) एयरपोर्ट पर बुधवार शाम उस वक्त हाई अलर्ट जारी कर दिया गया, जब अधिकारियों को फोन पर किसी ने खबर दी कि हवाई अड्डे के पास एक 'बड़ा सा गुब्बारा' देखा गया है। हालांकि जांच के बाद पता चला कि वह गुब्बारा मौसम विभाग का था।
पुलिस ने लोगों से कहा डरें नहीं
आईजीआई हवाई अड्डे के पुलिस उपायुक्त डी के गुप्ता ने बताया कि दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (डायल) के कॉल सेंटर में किसी शख्स ने फोन पर सूचना दी कि एयरपोर्ट के पास एक बड़ा सा गुब्बारा देखा गया है। इसके बाद सभी एजेंसियों को सतर्क कर दिया गया। हालांकि मामले की जांच के बाद दिल्ली पुलिस ने लोगों को सलाह दी कि वह डरें नहीं।
वहीं दिल्ली से काठमांडू जा रहे जेट एयरवेज और एयर इंडिया के विमान में भी बम होने की मिली थी। हालांकि जांच के बाद यह खबर झूठी निकली, जिसके बाद इन दोनों विमानों को काठमांडू के लिए रवाना कर दिया।
बाड़मेर में भी दिखा था संदिग्ध गुब्बारा
इससे पहले मंगलवार को राजस्थान के बाड़मेर के गुगड़ी गांव के पास भी ऐसा ही एक संदिग्ध बैलून दिखा था, जिसे भारतीय वायुसेना के सुखोई ने मार गिराया था। वायुसेना के मुताबिक उसके रडार पर करीब सुबह 10.30 और 11 के बीच में बैलून की तरह कोई संदिग्ध चीज दिखी। इसके बाद वायुसेना के लड़ाकू विमान सुखोई को भेजा गया, जिसके इसने संदिग्ध दिखने वाली वस्तु को मार गिराया।
पाकिस्तान की तरफ से आया था गुब्बारा
रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि बाड़मेर में वायुसेना के लड़ाकू विमान ने बैलून को इसलिए मार गिराया गया, क्योंकि एक तो वह पाकिस्तान से तरफ से उड़कर आया था और दूसरी वायुसेना के रडार में संदिग्ध दिखी इसलिए उसे बिना देरी किए मार गिराया गया। बाद में जब जांच हुई तो पता चला कि उसमें कोई विस्फोटक पदार्थ नहीं, बल्कि हीलियम भरा हुआ था।
रक्षा सूत्रों का कहना है कि ऐसे मामलो में कोई रिस्क नहीं लिया जा सकता, जिस वजह से ऐसी कार्रवाई हुई। रक्षा जानकार यह भी कह रहे हैं कि ऐसी संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता है कि पाकिस्तान भारत की सुरक्षा तैयारियों का जायजा लेने के लिए भी ऐसी हरकत कर सकता है। इस मामले को लेकर रक्षा मंत्रालय ने अपनी रिपोर्ट विदेश मंत्रालय को भेज दी है।

Updated : 2016-01-27T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top