Home > Archived > पार्षद कुरैशी पर एक दर्जन मामले दर्ज, कई में दोषमुक्त

पार्षद कुरैशी पर एक दर्जन मामले दर्ज, कई में दोषमुक्त

अब तक सर्वाधिक मामले जुआ के हुए हैं दर्ज

भिण्ड। पुलिस प्रशासन व विधायक के आमने-सामने टकराव की वजह भाजपा का पार्षद अनीश कुरैशी है। वर्तमान में मीडिया में भिण्ड जिले को सुर्खियों में लाने वाला भी यही व्यक्ति है जिसके लिए सत्ताधारी विधायक ने अपनी प्रतिष्ठा भी दांव पर लगा दी है। उसकी वजह आपराधिक किस्म के व्यक्ति को उसके समाज में अपार समर्थन प्राप्त है। निर्दलीय पार्षद के रूप में भाजपा और कांग्रेस को कड़ी टक्कर देकर चुनाव जीतने वाला अनीश कुरैशी के जनबल को ध्यान में रखते हुए भाजपा ने गत चुनाव में अपना उम्मीदवार बना दिया। उसकी आर्थिक समृद्धता व बोटों की पकड़ के कारण तत्काल भाजपा की टिकिट वितरण समिति ने उस पर दर्ज एक दर्जन से भी अधिक मामलों को नजर अंदाज करने का काम किया। जो आज सत्ताधारी विधायक व पार्टी की किरकिरी कर रहा है।
माधौगंज हाट गौरी किनारे रहने वाला यह शख्स चेहरे से काफी मासूम नजर आता है। उसके मृदु व्यवहार और बाकपटुता से कोई भी उसके झांसे में आ जाए। उक्त भाजपा पार्षद के विरुद्ध अब तक 12 मामले दर्ज हुए हैं। जिसमें कई मामलों में न्यायालय से वह दोषमुक्त भी हो चुका है। भाजपा के पार्षद बनने के बाद यह पहला मामला है, जिसमें उस पर धारा 151 व सट्टे का मामला दर्ज हुआ है। पुलिस के आपराधिक रिकार्ड के अनुसार पार्षद अनीश कुरैशी के विरुद्ध वर्ष 2000 में अपराध क्र.23 धारा 294, 336, 323 आईपीसी व अपराध क्र. 305 13 जुआ एक्ट का मामला दर्ज हुआ था। उसके बाद उस पर लगभग एक दर्जन मामले दर्ज हुए, जिसमें अधिकांश मामले जुआ व सट्टा अधिनियम के हैं। वहीं एक मामला अवैध हथियार व हत्या के प्रयास का भी दर्ज है।

Updated : 2016-01-13T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top