Top
Home > Archived > सांसदों के निलंबन के विरोध मेंं धरना

सांसदों के निलंबन के विरोध मेंं धरना

प्रदर्शन कर कांग्रेसियों ने सौंपा ज्ञापन
अशोकनगर | कांग्रेस ने सांसदों के निलंबन पर आज शुक्रवार को गांधी पार्क चौराहे पर धरना देकर विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा सरकार में बैठे नुमाइंदे निरंकुश होकर राष्ट्र का गलत तरीके से दोहन कर रहे हैं।
देश भर में भाजपा शासित राज्यों में भ्रष्टाचार जैसे राजस्थान में ललित गेट, छत्तीसगढ़ में धान एवं मप्र में व्यापमंं जैसे घोटालों से राष्ट्र शर्मसार हो गया तो इस लड़ाई को प्रजातंत्र तरीके से कांग्रेस सांसदों ने लोकतंत्र में लडऩा शुरू किया तो प्रधानमंत्री के इशारे पर कांग्रेस के सांसदों को आवाज दवाने की कोशिश करते हुए उन्हें निलंबित कर दिया। देश की सर्वोच्य संस्था में जनता की भावना को संसद में उठाने से रोका जा रहा है। कांगेसियों का कहना है कि सांसदों की इस आवाज को दवाने की कार्रवाई के खिलाफ अब पूरे देश में सड़कों पर उतरकर भाजपा शासन के भ्रष्टाचार की पोल खोली जाएगी। तत्पश्चात तहसीलदार आलोक वर्मा को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंंपकर भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इस दौरान जिलाध्यक्ष गजराम सिंह यादव, ब्लाक अध्यक्ष हरिओम नायक, पूर्व नपाध्यक्ष जजपाल सिंह जज्जी, पूर्व नपा उपाध्यक्ष महेन्द्र भारद्वाज, डॉ. रामसेवक रोहले, राकेश सिंघई, रमेश नायक, राम सिंह रघुवंशी ठेकेदार, पार्षद मनोज शर्मा, नारायण प्रसाद शर्मा आदि शामिल थे।

Updated : 2015-08-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top