Home > Archived > बोहरा कांप्लेक्स के पास धमाके का अब तक नहीं हो सका खुलासा, फिर धमाका, इस बार राघौगढ़ के एक घर में

बोहरा कांप्लेक्स के पास धमाके का अब तक नहीं हो सका खुलासा, फिर धमाका, इस बार राघौगढ़ के एक घर में

3 मासूम हुए घायल, दहशत में आया मोहल्ला


गुना। गुना जिले में फिर एक बार धमाके की गूंज सुनने को मिली है। इस बार धमाका जिले के राघौगढ़ क्षेत्र में हुआ है। जहाँ आज दोपहर एक घर में धमाका हुआ, जिसमें 3 मासूम घायल हुए है। इससे जहाँ पूरे मोहल्ले में दहशत फैल गई। साथ ही मौके पर लोगों का हुजूम जमा हो गया। सूचना मिलने के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची। धमाके में घायल तीनों मासूमों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दूसरी ओर धमाका कैसे हुआ? इस संबंध में पुलिस स्पष्ट रुप से कुछ नहीं बता पा रही है। वैसे बताया जा रहा है कि धमाका बारुद का हो सकता है। उधर, गुना में बोहरा कॉम्पलेक्स के पास हुए धमाके का खुलासा पुलिस अब तक नहीं कर पाई है। घटना को लगभग 2 माह हो चुके है और पुलिस अब तक यह बताने की स्थिति में नहीं है कि धमाका किससे चीज से हुआ था। अभी भी पुलिस रिपोर्ट आने की बात कह रही है।

पाल मोहल्ला स्थित घर में हुआ धमाका

बताया जाता है कि राघौगढ़ के पाल मोहल्ला में आज रोज की तरह सामान्य चहल-पहल देखने को मिल रही थी। सड़क पर आवाजाही सामान्य थी तो घरों में लोग रोजमर्रा के कामों में व्यस्त थे। इसी दौरान तेज धमाके की आवाज ने लोगों को चौंका दिया। आवाज बम फूटने जैसी थी। इसके चलते लोगों में दहशत फैल गई। इसके चलते लोग जहाँ घरों से बाहर निकल आए, वहीं राह से निकल रहे राहगीर भी रुक गए। घटना को लेकर जानकारी लेने पर पता चला कि विस्फोट मोहल्ले में स्थित अय्यूब खाँ के घर में हुआ है। घर एक मंजिला होने के साथ उसका काफी भाग कच्चा भी था। धमाके से घर के परखच्चे उड़ गए थे और सामान क्षतिग्रस्त हो गया था। धमाके के समय घर में 3 मासूम बच्चे होना बताए गए है, जो घायल हुए है। थोड़ी ही देर में घटनास्थल पर लोगों का हुूजूम जमा हो गया। बाद में सूचना मिलने के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इसके बाद घायल बच्चों को उपचार के लिए अस्पताल भिजवाया गया। साथ ही घटना को लेकर जांच शुरु की गई।

स्पष्ट नहीं हो रहा धमाके का कारण
घटना में धमाके का कारण स्पष्ट नहीं हो पा रहा है। पुलिस भी इस संबंध में कोई जानकारी देने की स्थिति में नहीं है। उसका कहना है कि जांच चल रही है, इसके बाद भी कुछ कहा जा सकता है। दूसरी ओर सूत्र बताते है कि पाल मोहल्ला स्थित कुछ घरों में आतिशबाजी बनाने का कारोबार होता है। इस घटना को भी आतिशबाजी कारोबार से जोड़कर देखा जा रहा है। लोगों का मानना है कि आतिशबाजी बनाने के दौरान बारुद में विस्फोट हुआ होगा। गौरतलब है कि न सिर्फ राघौगढ़ बल्कि जिले के अनेक इलाकों में अवैध रुप से आतिशबाजी बनाने का कारोबार हो रहा है। जिस पर प्रशासन रोक नहीं लगा पा रहा है।

Updated : 2015-08-07T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top