Top
Home > Archived > सिंहस्थ : धार्मिक छाप से मुक्त करने पाकिस्तान भी देगा राय

सिंहस्थ : धार्मिक छाप से मुक्त करने पाकिस्तान भी देगा राय


भोपाल । सिंहस्थ को धार्मिक आयोजन से मुक्त करते हुए दुनिया भर में 'विचार' का रूप देने के लिए पाकिस्तान भी अपनी राय देगा। मध्यप्रदेश का संस्कृति विभाग भोपाल में एक आयोजन करने जा रहा है। आयोजन में कई देशों के चिंतक, विचारक और अपने-अपने क्षेत्र के पारंगत प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे।
मप्र सरकार सिंहस्थ को अंतर्राष्ट्रीय आयोजन का स्वरूप देने जा रही है। अगले साल अप्रैल में उज्जैन में क्षिप्रा तट पर होने वाले इस आयोजन की तैयारियां जोरों पर हैं। संस्कृति विभाग, मध्यप्रदेश विधानसभा के आडिटोरियम में 17 अप्रैल से 19 अप्रैल तक 'जीवन में मूल्य निष्ठताÓ विषय पर परिसंवाद कर रहा है। विदेश के अलावा देश के विशेषज्ञ भी इसमें हिस्सा लेंगे। आयोजन का शुभारंभ ईषा फाउंडेशन कोयम्बटूर के अध्यक्ष जग्गी वासुदेव महाराज करेंगे। जबकि मुख्य अतिथि अखिल विश्व गायत्री परिवार के निदेशक और देव संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. प्रणव पंड्या होंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में विमर्श होगा। एक दर्जन के लगभग विषयों पर तीन दिनों तक मंथन चलेगा।

15 देशों ने दी आने की स्वीकृति

आयोजन के लिए दुनिया भर के देशों को आमंत्रण दिया गया है। डेढ़ दर्जन के करीब देशों ने आयोजन में शिरकत करने की अनुमति दी है। जो देश आने को तैयार हो गए हैं उनमें पाकिस्तान, भूटान, नेपाल, कनाडा और यूएसए आदि शामिल हैं।



Updated : 2015-04-02T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top