Latest News
Home > Archived > भारत और मलेशिया एक दूसरे की डिग्रियों को देंगे मान्यता

भारत और मलेशिया एक दूसरे की डिग्रियों को देंगे मान्यता

कुआलालंपुर। भारत और मलेशिया ने शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग को और प्रगाढ़ करने के लिए एक दूसरे की डिग्रियों को मान्यता देने के समझौते को जल्द पूरा करने का आज संकल्प व्यक्त किया।
उल्लेखनीय है कि मलेशिया में भारत की शीर्ष शैक्षणिक संस्थाओं की कई डिग्रियों को मान्यता नहीं दी गई है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मलेशियाई समकक्ष नजीब रज्जाक के साथ द्विपक्षीय बातचीत के दौरान इस मुद्दे को उठाया। उन्होंने मलेशिया के छात्रों को पढ़ाई करने के लिए भारत आने को आमंत्रित किया, साथ ही एक दूसरे की डिग्रियों को मान्यता देने के समझौते को जल्द से जल्द पूरा करने का आग्रह किया। इस पर नजीब ने कहा कि इस मुद्दे पर चर्चा के लिए हम तत्काल कार्रवाई करेंगे।मोदी ने कहा कि दोनों देश सांस्कृतिक और जनता से जनता के स्तर पर संबंधों को विशेष महत्व देंगे। उन्होंने कहा कि मुझे आयुर्वेद समेत पारंपरिक चिकित्सा पद्धति के क्षेत्र में अपने बढ़ते शानदार सहयोग पर काफी प्रसन्नता है। इसके अलावा भारत और मलेशिया ने साइबर सुरक्षा, संस्कृति और लोक प्रशासन के संबंध में सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर भी किए।

Updated : 2015-11-23T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top