Latest News
Home > Archived > भिंड व बैतूल के परीक्षा केन्द्रों की सूची नहीं पहुंची माशिमं

भिंड व बैतूल के परीक्षा केन्द्रों की सूची नहीं पहुंची माशिमं

भोपाल। माध्यमिक शिक्षा मंडल के निर्देषों के बाद भी प्रदेश के दो जिले ऐसे हैं, जिन्होंने अभी तक परीक्षा केन्द्रों की सूची बोर्ड को नहीं सौंपी है। इनमें भिंड जिला तो नकल के मामले में अव्वल माना जाता रहा है।
माध्यमिक शिक्षा मंडल ने भिंड व बैतूल के जिला शिक्षा अधिकारियों को तत्काल सूची जमा करने के निर्देश दिये हैं। मजेदार बात यह है कि आगामी 20 नवंबर को परीक्षा केन्द्रों को लेकर बोर्ड की बैठक होना है और अभी तक इन दो जिलों की सूची बोर्ड के पास उपलब्ध नहीं है। सूत्र बताते है कि इस बार हाईस्कूल व हायर सेकेन्डरी की परीक्षा उज्जैन में हो रहे सिंहस्थ को ध्यान में रखकर फरवरी के अंतिम सप्ताह से प्रारंभ होकर मार्च के प्रथम सप्ताह में संपन्न कराने पर विचार चल रहा है।
परीक्षा केन्द्रों की सूची जिला शिक्षा अधिकारी और कलेक्टर के माध्यम से 16 अक्टूबर को भेजी जाना थी, लेकिन एक माह बाद भी यह सूची बोर्ड ऑफिस में नहीं आयी है। बताते है कि भिंड जिले में परीक्षा केन्द्रों की सूची तत्कालीन कलेक्टर ने बना भी ली थी, लेकिन ऐन समय पर उनका तबादला हो गया और उस सूची पर जिला शिक्षा अधिकारी ने हस्ताक्षर इसलिए नहीं किये कि पूर्व कलेक्टर ने मनमाने तरीके से केन्द्र बनाकर डीईओ पर स्थानातंर के बाद दबाव बनाना प्रारंभ कर दिया था और डीईओ पर राजनैतिक दबाव था कि सूची को नये सिरे से बनाकर भेजो। सूत्र बताते है कि अब भिंड जिले में नये कलेक्टर पहुंच गये है और वे अपने हिसाब से ऐसे परीक्षा केन्द्र बनाना चाह रहे है कि भिंड जिले को नकल के कलंक से मुक्त करा सकें। यद्यपि भिंड के नये कलेक्टर का यह सपना शायद ही पूरा हो सके। क्योंकि भिंड के नकल माफिया के हाथ बहुत लंबे है। देखना है कि इस बार की परीक्षा कैसी होती है।

Updated : 2015-11-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top