Home > Archived > पोहरी विस में एक साल में 200 करोड़ के विकास कार्य

पोहरी विस में एक साल में 200 करोड़ के विकास कार्य

एक साल में तेजी से बढ़ा विकास अभियान

शिवपुरी । भाजपा विधायक प्रहलाद भारती ने अपना एक वर्ष का रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए अपने पोहरी विधानसभा क्षेत्र में 200 करोड़ से अधिक के विकास कार्य कराने का दावा किया है। उनका कहना है कि पिछले एक साल में पोहरी क्षेत्र में विकास अभियान तेजी से आगे बढ़ा है।
पे्रस को जारी एक विज्ञप्ति में श्री भारती ने पोहरी विधानसभा क्षेत्र के विकास के प्रति अपना संकल्प और प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा है कि क्षेत्र में पिछले पांच वर्ष के कार्यकाल से प्रांरभ हुए विकास अभियान को पिछले एक वर्ष के कार्यकाल में नई दिशा और आयाम देने का प्रयास किया गया है। उनकी सबसे महत्वपूर्ण उपलब्धि पोहरी से मोहना रोड को डबल लेन स्टेट हाइवे के रूप में विकसित करने के लिए कैबिनेट से प्रशासकीय स्वीकृति के रूप में हासिल हुई है। एक लम्बे कालखण्ड से चली आ रही लोगों की पोहरी-मोहना रोड की इस मांग की पूर्ति एमपीआरडीसी द्वारा 116 करोड़ की लागत से डबल लेन स्टेट हाइवे बनाकर हम निकट भविष्य में पूरी करने जा रहे हैं।
श्री भारती ने बताया कि पोहरी कस्बे में पेयजल समस्या के स्थाई समाधान हेतु 27 करोड़ की लागत से कूनों नदी से पोहरी के लिए जल आवर्धन योजना को प्रदेश स्तरीय तकनीकी समिति से स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। बस स्टैण्ड की समस्या को देखते हुए पोहरी कस्बे में नवीन बस स्टैण्ड का परिचालन हमने श्योपुर रोड पर थाने के पीछे प्रारंभ कराया है, जिससे पोहरी कस्बे की इस बहुप्रतीक्षित मांग की पूर्ति हुई है।
पोहरी क्षेत्र के दूरस्थ जनजाति बाहुल्य अंचल छर्च में संचालित उप स्वास्थ्य केन्द्र का प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में उन्नयन कराया गया है। यहां 1.20 करोड़ की राशि नवीन अस्पताल भवन के लिए स्वीकृत कराई गई है। इसके साथ ही 81 लाख की लागत से प्रसव केन्द्र छर्च, मुढैरी, जौराई, गोपालपुर एवं सुभाषपुरा में स्थापित मार्डन डिलेवरी केन्द्रों का उन्नयन किया जा रहा है। क्षेत्र में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की दृष्टि से सोन्हर, सालौदा, बरोद, बेरजा, टोरिया, भौराना में 1.38 करोड़ की लागत से छह नवीन उपबस्वाथ्य केन्द्र भी स्वीकृत कराए गए हैं। इसी कड़ी में छर्च पशु औषधालय को उन्नयन कर पशु चिकित्सालय बनाया गया है। यहां नवीन भवन निर्माण के लिए 8.60 लाख रुपए की राशि भी स्वीकृत हो चुकी है।
श्री भारती ने बताया कि बैराड़ कस्बे में निर्माणाधीन नवीन कृषि उपज मण्डी में करीब दो करोड़ की लागत के विकास कार्य स्वीकृत कराए गए हैं। चकरामपुर, जहां विगत कार्यकाल में माध्यमिक स्कूल से हाईस्कूल में उन्नयन हुआ था, वह इस वर्ष हाईस्कूल से हायर सेकेण्डरी स्कूल में उन्नयन होने वाला जिले का एकमात्र विद्यालय बन गया है। इसके अलावा धौलागढ़, परिच्छा एवं गोपालपुर हाईस्कूलों के लिए तीन-तीन अतिरिक्त कक्ष प्रयोगशाला, पुस्कालय, क्राफ्ट कक्ष का निर्माण कार्य 45 लाख की राशि से किया जा रहा है। भटनावर एवं छर्च में अनूसूचित जाति की छात्राओं के लिए 2.10 करोड़ की लागत से 50-50 सीटर छात्रावास स्वीकृत कराए गए हैं। इसके साथ ही अनुसूचित जनजाति की छात्राओं के लिए पोहरी में 87 लाख की लागत से 50 सीटर छात्रावास स्वीकृत कराया गया है। श्री भारती ने बताया कि हरिजन व आदिवासी बस्तियों में 40 लाख की लागत की सी.सी. रोड और 55 लाख के एकीकृत आवास स्वीकृत कराए गए हैं। क्षेत्र में 48 करोड़ की लागत से 52 नवीन सड़कंे प्रस्तावित की गई हैं, जो स्वीकृत भी कराई जा रही हंै। इसके अतिरिक्त विधायक निधि से 68 लाख से अधिक के विकास कार्य स्वीकृत कराए गए हैं, जिसमें महादेव घाटी-बेहरदा, सतनबाड़ा-नरवर मार्ग पर झिरना के पास व पोहरी बस स्टैण्ड शिवपुरी में नवीन पुलिस सहायता केन्द्र भवन निर्माण, बस स्टैण्ड पोहरी, न्यायालय पोहरी व चूनाखो आश्रम पर पेयजल के लिए नवीन नलकूप, सीसी सड़क, रपटा निर्माण स्वीकृत कराए गए हैं।
क्षेत्र में पेयजल की उपलब्ध सुनिश्चित करने के लिए 80 लाख की लागत से 80 से अधिक नवीन हैण्डपम्प व नलकूप स्वीकृत कराए गए हैं। इसके अलावा बीआरजीएफ कार्ययोजना वर्ष 2014-15 के अंतर्गत विधानसभा क्षेत्र में सामुदायिक भवन, आंगनबाड़ी भवन, पुलिया-रपटा, पशुधन विकास केन्द्र, स्टेडियम, हैण्डपम्पों के निर्माण आदि के भी लगभग आठ करोड़ के विकास कार्य प्रस्तावित किए गए हैं।

Updated : 2015-01-16T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top