Latest News
Home > Archived > मंगलयान के लाल ग्रह की कक्षा में प्रवेश के साक्षी बनेंगे प्रधानमंत्री

मंगलयान के लाल ग्रह की कक्षा में प्रवेश के साक्षी बनेंगे प्रधानमंत्री

मंगलयान के लाल ग्रह की कक्षा में प्रवेश के साक्षी बनेंगे प्रधानमंत्री
X

बंगलूरु। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को इसरो के टेलीमेट्री ट्रैकिंग एंड कमांड नेटवर्क (इसट्रैक) पर अंतरिक्षयान नियंत्रण केंद्र में भारत के प्रथम मंगलयान के लाल ग्रह की कक्षा में प्रवेश कर इतिहास रचे जाने के साक्षी बनेंगे।
भारत का मंगलयान इतिहास रचने से एक कदम दूर है। सोमवार को अभ्यास के तौर पर यान का मुख्य इंजन चार सेकंड के लिए चालू किया गया। अब यान 24 सितंबर को मंगल ग्रह की कक्षा में प्रवेश करेगा।
इस दौरान यान की गति कम कर उसे सही तरीके से लाल ग्रह की कक्षा में प्रवेश कराने के लिए बुधवार को इंजन को 24 मिनट के लिए शुरू किया जाएगा। इसरो (इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन) का कहना है कि 300 दिन की निष्क्रियता के बाद 440 न्यूटन लिक्विड एपोजी मोटर (एलएएम) ने सफलतापूर्वक काम किया। मंगलयान ने मंगल के गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र में प्रवेश कर लिया है। इसरो ने यान में पहले से ही निर्देश अपलोड कर रखे हैं। इससे यान को स्वत: कक्षा में प्रवेश करने में मदद मिलेगी।


Updated : 2014-09-23T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top