Latest News
Home > Archived > भोपाल के लिए सीधी ट्रेन बंद

भोपाल के लिए सीधी ट्रेन बंद

गुना-बीना रेल खण्ड पर पैसेंजर गाड़ी भी प्रभावित

अशोकनगर। भोपाल से बीना के बीच तीसरी रेल लाइन बिछाए जाने के कार्य के चलते अशोकनगर से भोपाल तक जाने वाली गाडिय़ों का सम्पर्क बंद हो गया है। यह ट्रेनें अब बीना रेलवे स्टेशन तक ही जा रहीं हैं। जबकि सायं के समय चलने वाली बीना-गुना 51609 एवं गुना-बीना 51610 पैसेंजर ट्रेन को भी बंद कर दिया गया है। 13 अगस्त तक यात्रियों को इसी तरह की परेशानी से दो चार होना पड़ेगा। अशोकनगर रेलवे स्टेशन से प्रदेश की राजधानी भोपाल तक जाने वाली मात्र दो ही यात्री ट्रेनें गुजरती हैं। जिनमें जोधपुर-भोपाल एवं ग्वालियर-भोपाल इंटरसिटी ट्रेन ही सीधे भोपाल तक पहुंचती है। लेकिन लगातार एक सप्ताह तक इन ट्रेनों को भोपाल तक नही पहुंचाया जाएगा। यह ट्रेनें केवल बीना तक ही यात्रियों को सफर कराएंगी और अपने निर्धारित समय पर बीना से वापस प्रस्थान करेंगी। रक्षा बंधन के त्यौहारी समय पर रेलवे द्वारा ट्रेनों को गंतव्य तक नही पहुंचाने से यात्रियों को परेशानी पड़ रही है। विदिशा-भोपाल सहित अन्य रेलवे स्टेशनों तक जाने वाले यात्रियों को बीना पहुंचकर ट्रेनों का इंतजार करना पड़ रहा है।

सुबह चल रही पैसेंजर:
बीना से गुना एवं गुना से बीना के बीच दो चक्कर लगाने वाली पैसेंजर ट्रेन मात्र सुबह के अपने निर्धारित समय पर ही चलाई जा रही है। सायं के समय बीना से गुना और गुना से बीना के बीच चलने वाली इस ट्रेन को रद्द कर दिया गया है। यह ट्रेन भी 13 अगस्त तक बंद रहेगी। इस ट्रेन के सायं के समय बंद होने से यात्रियों को गुना एवं मुंगावली के लिए यात्रा करने के लिए बसों का सहारा लेना पड़ रहा है। क्योंकि अशोकनगर रेलवे स्टेशन से गुना की ओर जाने के लिए दोपहर को दमोह-ग्वालियर ट्रेन के बाद अन्य कोई पैसेंजर यात्री ट्रेन नही है। यात्रियों को रात्रि तक भोपाल-जोधपुर ट्रेन का इंतजार करना पड़ रहा है। इसी तरह मुंगावली-बीना की ओर यात्रा करने के लिए ग्वालियर दमोह पैसेंजर के बाद नागदा-बीना पैसेंजर के इंतजार में रेलवे स्टेशन पर बैठना पड़ रहा है। इसके साथ समय पर और जरूरी कार्य होने के कारण यात्रियों को मजबूरन बसों का सहारा लेना पड़ रहा है।
पिपरई क्षेत्र में दिखा असर:
करीब 13 अगस्त पैसेंजर ट्रेन प्रभावित रहने के कारण सर्वाधिक परेशानी पिपरई क्षेत्रवासियों को उठाना पड़ रही है। इस क्षेत्र में अशोकनगर से पिपररई तक सीधी सड़क तो है लेकिन यात्री वाहन नही हैं। इस कारण इस क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले रेलवे स्टेशन पीपलखेड़ा-हिनौतिया, ओर, रतवास, पिपरई से लगे तीन दर्जन से अधिक गांवों के लोगों को आवागमन की व्यवस्था गड़बड़ा गई है। ऐसे ही मुंगावली की ओर आने जाने के लिए लोगों को परेशानी से जूझना पड़ रहा है। 

Updated : 2014-08-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top