Home > Archived > पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, दो जवान घायल

पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, दो जवान घायल

पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, दो जवान घायल
X

जम्मू | पाकिस्तान ने 48 घंटे से भी कम समय की अवधि में तीसरी बार संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए जम्मू जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा स्थित 10 भारतीय चौकियों और नागरिक इलाकों पर छोटे एवं स्वचालित हथियारों से गोलीबारी की तथा मोर्टार दागे, जिसमें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दो जवान समेत चार लोग घायल हो गए।
बीएसएफ के एक अधिकारी ने आज बताया, पाकिस्तानी रेंजरों ने कल रात लगभग 8 बजकर 30 मिनट से लेकर जम्मू जिले के अरनिया सब़ सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बिना किसी उकसावे के सीमावर्ती चौकियों पर छोटे एवं स्वचालित हथियारों से गोलीबारी की। उन्होंने बताया कि सीमा पर तैनात बीएसएफ के जवानों ने मोर्चा संभाल लिया और पाकिस्तान की गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। इसके चलते दोनों ओर से रूक-रूक कर गोलीबारी होती रही।
अधिकारी ने बताया कि गोलीबारी में बीएसएफ के दो जवान मामूली रूप से घायल हो गए जिन्हें उपचार के लिए भेजा गया है। उन्होंने कहा कि गोलीबारी आज सुबह 6 बजे तक जारी रही। घायल जवानों की पहचान हेड कांस्टेबल सुमित और कांस्टेबल वैष्णव दत्त के रूप में हुई है।
अधिकारी ने कहा कि गोलीबारी में दो नागरिक भी घायल हुए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पाकिस्तानी रेंजरों ने अरनिया पट्टी में कल रात लगभग साढ़े आठ बजे निकोवाल और भुदवार सीमा चौकियों पर गोलीबारी की। इसके बाद टेंट गार्ड चौकी पर गोलीबारी की गई। इसके बाद उन्होंने पित्तल, पिंडी चारकान, काके-दे-कोठे, चिनाज, नोवा पिंड ओर जोगना चाक सीमा चौकियों पर गोलीबारी की।
पाकिस्तानी सैनिकों ने सूर्योदय से पहले कोडवाल, पिंडी, साहौग गांवों में भी दर्जनों मोर्टार दागे और गोलीबारी आज सुबह लगभग सात बजे बंद हुई। पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि गोलीबारी में चार ढांचों को भी नुकसान पहुंचा है। क्षतिग्रस्त हुई इन संरचनाओं में दो कोडवाल के तथा पिंडी का एक बैंक्वेट हॉल और एक मकान की बाहरी दीवार शामिल है।
पिछले 48 घंटों में यह तीसरा संघर्ष विराम उल्लंघन है। इसके अलावा बीएसएफ और पाक रेंजर्स के बीच ऑक्टेरियो सीमा चौकी पर कमांडेंट स्तर की फ्लैग मीटिंग में शांति बनाए रखने का समझौता होने के बाद अंतरराष्ट्रीय सीमा पर यह पहला संघर्ष विराम उल्लंघन है। यह बैठक आठ अगस्त को जम्मू के आरएस पुरा सेक्टर में हुई थी, जब पाक रेंजर्स ने बीएसएफ के एक जवान को सौंपा था।
संघर्ष विराम का यह ताजा उल्लंघन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लेह और करगिल की कल होने वाली यात्रा से ठीक पहले हुआ है। वहां प्रधानमंत्री बिजली परियोजनाओं का उदघाटन करेंगे और लेह में सैनिकों को संबोधित करेंगे। 

Updated : 2014-08-11T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top