Home > Archived > फर्जी हस्ताक्षर से बेची पत्नी की आल्टो कार

फर्जी हस्ताक्षर से बेची पत्नी की आल्टो कार

ग्वालियर। दहेज में मिली कार को फर्जी दस्तखत करके महिला के पति, ससुर एवं ननद ने बेच दिया। जानकारी के अनुसार जमाल खां की गोठ निवासी रजनी पत्नी विक्रम गुर्जर उम्र 24 वर्ष की शादी 2009 में विक्रम के साथ हुई थी। शादी में रजनी के पिता ने करीब 50 लाख रुपए से अधिक दिए थे एवं दो गाड़ी भी दहेज में दी थीं। एक आल्टो कार पिता ने रजनी के नाम पर दी थी। रजनी और विक्रम के बीच शादी के कुछ समय बाद ही विवाद होने लगा और मामला न्यायालय में पहुंच गया। रजनी के इस बीच एक बच्चा भी हो गया तो विक्रम ने रजनी और उसके बच्चे को घर से निकाल दिया। रजनी के नाम आल्टो कार को विक्रम एवं उसके पिता कौशलेन्द्र एवं बहिन नेहा ने मिलकर फर्जी दस्तखत करके शैलेन्द्र गुप्ता को बेच दी थी। जिसकी शिकायत रजनी ने पुलिस थाना मुरार में की। थाना प्रभारी ने विवेचना के बाद विक्रम, कौशलेन्द्र एवं नेहा के खिलाफ धोकाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। 

Updated : 2014-07-14T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top