Latest News
Home > Archived > भृत्य से पिटाई के विरोध में कर्मचारियों ने की हड़ताल

भृत्य से पिटाई के विरोध में कर्मचारियों ने की हड़ताल

शाम को मामला दर्ज होने पर हुई समाप्त


श्योपुर। तामील कराने गए भृत्य से हुई मारपीट के बाद पुलिस द्वारा मामला दर्ज न किए जाने के चलते गुरुवार को तहसील कर्मचारी हड़ताल पर रहे तथा एक ज्ञापन तहसीलदार धीरेन्द्र गुप्ता को सौंपा।
यहां बता दें कि तहसील कार्यालय में पदस्थ भृत्य आकाश धूलिया एवं चौकीदार मनोहर का भाई मंगलवार को बटांकन संबंधि काम के लिए ग्राम बांड़ीखेड़ा में तामील करने गया हुआ था। इस दौरान आरोपी भरत शर्मा ने मुहंबाद करते हुए उसे घर में ले जाकर उसकी जमकर मारपीट कर दी। घटना का पूरा वाकया भृत्य आकाश ने तहसीलदार को आकर सुनाया। जिस पर उन्होंने पुलिस में एफआईआर कराए जाने के निर्देश दिए। लेकिन पुलिस द्वारा दो दिन तक मामला दर्ज नहीं किया गया। जिसके चलते गुरूवार को तहसील कार्यालय में पदस्थ कर्मचारियों ने भृत्य के साथ हुई मारपीट का विरोध करते हुए आरोपी पर मामला दर्ज किए जाने की मांग करते हुए अनिश्चितकालीन प्रदर्शन की चेतावनी दे दी तथा हड़ताल पर चले गए। उधर कर्मियों के हड़ताल पर जाने से तहसील का काम-काज गड़बड़ा गया। अपने जरूरी काम लेकर यहां पहुंचने वाले लोगों को हड़ताल की सूचना मिलने पर निराशा हाथ लगी तथा अपने गांव को वापस लौटना पड़ा।

जिलाधीश के निर्देश पर किया मामला दर्ज
जानकारी के अनुसार भृत्य से हुई मारपीट के मामले में जब बड़ौदा पुलिस द्वारा एफआईआर दर्ज नहीं की गई, तो तहसीलदार धीरेन्द्र गुप्ता ने जिलाधीश ज्ञानेश्वर बी पाटिल को अवगत कराया। जिस पर जिलाधीश ने मामला दर्ज किए जाने के निर्देश पुलिस को दिए, तब कहीं जाकर गुरुवार शाम तक मामला दर्ज हो पाया।
इनका कहना है...
भृत्य से हुई मारपीट के विरोध में कर्मचारी हड़ताल पर चले गए थे। हालांकि शाम तक मामला दर्ज होने के साथ ही उनकी हड़ताल भी खत्म हो चुकी है।
धीरेन्द्र गुप्ता
तहसीलदार, बड़ौदा

Updated : 2014-07-11T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top