Latest News
Home > Archived > भारत-अमेरिका के नौसैनिक अभ्यास में जापान होना चाहता है शामिल

भारत-अमेरिका के नौसैनिक अभ्यास में जापान होना चाहता है शामिल

टोक्यो । भारत-अमेरिका के हर वर्ष होने वाले नौसैनिक अभ्यास में अब जापान भी शामिल होना चाहता है। जापान के रक्षा मंत्री इत्सनोरी ओनोदेरा ने कहा कि यह नौसेना अभ्यास श्रृंखला ‘मालाबार’ समुद्री इलाके की सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण है। इसलिए मैंने भारतीय रक्षा मंत्री एके एंटनी के साथ मुलाकात के दौरान इस अभ्यास में जापानी नौवहन आत्मरक्षा बल के शामिल होने के बारे में कहा है।
जब जापानी रक्षा मंत्री से पूछा गया कि वह क्यों भारत-अमेरिका के नौसैनिक अभ्यास में शामिल होना चाहता है? तो उन्होंने कहा कि यह किसी खास देश को लक्ष्य बनाकर नहीं किया जा रहा है। यह एक ऐसा अभ्यास है जिसमें तीन मित्र राष्ट्र समुद्री क्षेत्र की सुरक्षा के लिए हिस्सा ले सकते हैं।
गौरतलब है कि यह महत्वपूर्ण नौसैनिक अभ्यास है वर्ष 1992 में शुरू किया गया था। इस नौसैनिक अभ्यास का नाम ‘मालाबार’ है। यह अभ्यास भारत और अमेरिका की नौसेनाएं करती है,लेकिन साल 2007 में जापान और ऑस्ट्रेलिया ने भी इसमें हिस्सा लिया था।
उधर,भारत के प्रतिद्वंदी देश चीन ने इस अभ्यास को लेकर परोक्ष रूप से नाखुशी जताई थी और उसने इसमें शामिल देशों से स्पष्टीकरण मांगा था। आपत्तियों के बाद भारत ने नौसेना अभ्यास को बहुपक्षीय बनाने की बजाय द्विपक्षीय करने का फैसला किया था।

Updated : 2014-01-12T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top