Latest News
Home > Archived > भूरिया व अजय सिंह का फीका स्वागत

भूरिया व अजय सिंह का फीका स्वागत

भूरिया व अजय सिंह का फीका स्वागत
X

ग्वालियर | कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कांतिलाल भूरिया और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह शनिवार को भिण्ड जिले में आयोजित परिवर्तन यात्राओं में शामिल होने आए।
ग्वालियर से भिण्ड रवाना होने से पहले होटल सेंट्रल पार्क में इन दोनों कांग्रेस नेताओं के स्वागत में सिर्फ उनके समर्थक ही पहुंचे। इनमें पूर्व मंत्री राजेन्द्र सिंह, भगवान सिंह यादव, गोविंद सिंह, प्रदेश महासचिव अशोक सिंह, वासुदेव शर्मा, बृजमोहन परिहार, दुष्यंत साहनी, यदुनाथ तोमर, सुरेन्द्र शर्मा, अरविंद केंगे, भागीरथ प्रसाद, रश्मि पवार शर्मा, सुधीर गुप्ता, वीरसिंह तोमर, संजय राठौर, कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रदेश सचिव शरद साहू, रविन्द्र चौहान आदि शामिल थे।
माला पहनाकर गायब हुई जिला कांग्रेस कमेटी
प्रदेशाध्यक्ष कांतिलाल भूरिया के ग्वालियर आगमन पर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के आधा दर्जन पदाधिकारी जिलाध्यक्ष दर्शन सिंह के नेतृत्व में स्वागत की औपचारिकता निभाने रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। इन जिला पदाधिकारियों ने श्री भूरिया के समर्थन में किसी भी तरह की नारेबाजी न करते हुए सिर्फ मालाएं पहनाईं और हाथ जोड़कर जाने की अनुमति मांगी। भूरिया के हां कहते ही यह पदाधिकारी गायब हो गए। कांग्रेस के प्रोटोकॉल के अनुसार शहर में होने तक जिलाध्यक्ष को उनके साथ नहीं रहना चाहिए? सवाल पर श्री भूरिया ने कहा कि जिलाध्यक्ष को कुछ काम आ गया होगा। हम सब एक हैं कोई मतभेद या गुटबाजी नहीं है।
विकास के झूठे आंकड़े
विकासदर में मध्यप्रदेश पूरे देश में सबसे आगे होने पर प्रतिक्रिया देते हुए नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार झूंठे आंकड़े दे रही है। विकास के यह आंकड़े सबसे पिछड़े पांच राज्यों के साथ तुलना कर तैयार किए गए हैं। श्री सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिव्यक्ति आय के मुकाबले प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय बहुत कम है। भय, भूख भ्रष्टाचार शिखर पर है। महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। उद्योग धंधे बंद हो रहे हैं। यहां सर्वाधिक कुपोषित बच्चे हैं। ऐसी स्थिति में म.प्र. कुपोषित राज्य कैसे हो सकता है।
टिकट के लिए भूरिया की शरण में रश्मि
खुद को सिंधिया समर्थक बताने वाली ग्वालियर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र की पराजित प्रत्याशी रश्मि पवार प्रदेशाध्यक्ष कांतिलाल भूरिया के ग्वालियर प्रवास के दौरान उनसे मिलीं तथा एकांत में ले जाकर चर्चा की। रश्मि पवार और श्री भूरिया के बीच हुई बातचीत इतनी तेज थी कि आसपास साफ सुनाई पड़ रहा था। रश्मि ने श्री भूरिया से कहा कि वे सिंधिया जी से बात करें। भूरिया ने कहा कि मैं बात क्यों करूं, पहले आप बात करो, फिर मैं बात करूंगा। सूत्र बताते हैं कि रश्मि इस बार भी दक्षिण विधानसभा से टिकट चाहती हैं जिसके लिए वे प्रदेशाध्यक्ष के कोटे से टिकट के लिए ताकत लगा रही हैं।

Updated : 2013-04-21T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top