Latest News
Home > Archived > भारत की युवा प्रतिभा से भयभीत है पश्चिम

भारत की युवा प्रतिभा से भयभीत है पश्चिम

शिवपुरी | अमेरिका सहित पूरी दुनिया आज भारतीय नौजवानों की प्रतिभा से घबराए हुए है अमेरिकी राष्ट्रपति अपने नागरिकों को भारतीय छात्रों से आगाह कर रहे है कि आने वाला समय भारतीय युवाओं का होगा । क्योंकि अगले एक दशक में अमेरिका और यूरोप बूढ़ों के देश होंगें जबकि भारत की 60 प्रतिशत आबादी इस दौर में 35 वर्ष से कम होगी। उक्त उद्गार अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के क्षेत्रीय संगठन मंत्री विष्णुदत्त शर्मा ने यहां पी.जी.कॉलेज में ई-लायब्रेरी के लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। 20 लाख की लागत वाले ई लर्निंग रिसोर्स सेंटर लोकार्पण समारोह की अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष जितेन्द्र जैन गोटू ने की।
मुख्य अतिथि विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि विद्यार्थी दृढ़ निश्चय कर अपना लक्ष्य केन्द्रित करके राष्ट्रीय निर्माण में अपना योग सुनिश्चित करें। उन्होंंने कहा कि भारत के नौजवान स्वामी विवेकानन्द के जीवन दर्शन को आत्मसात करके देश का नाम रोशन करेंगें तो सार्धसती पर उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी। श्री शर्मा ने कहा कि आज नौजवानों को अपने कैरियर के साथ-साथ देश के लिए भी सोचना होगा क्योंकि जो समाज अपनी जड़ों से कटकर प्रगति करता है उसका सिर्फ भौतिक महत्व है। श्री शर्मा ने शिवपुरी के छात्रों से आग्रह किया कि वे अपने अंदर आत्मविश्वास पैदा करके स्वयं का व्यक्तित्व निर्माण करें ताकि देश के लिए अपना योग सुनिश्चित कर सके। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जिला पंचायत अध्यक्ष जितेन्द्र जैन गोटू ने कहा कि कॉलेज में गुजारा गया समय विद्यार्थी जीवन का निर्णायक दौर होता है जो छात्र इसका सदुपयोग करते है।

Updated : 2013-04-02T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top