Home > Archived > फिर वापसी करेगी ठंड, जोरदार बारिश और ओलावृष्टि के आसार

फिर वापसी करेगी ठंड, जोरदार बारिश और ओलावृष्टि के आसार

नई दिल्ली। एक बार फिर कड़ाके की ठंड लोगों को कंपकपाने वाली है क्योंकि आने वाले दिनों में जोरदार ओला वृष्टि और बारिश के आसार हैं। तीन समुद्रों मेडिटेरैनियन, कैस्पियन और ब्लैक सी से उठा मजबूत वेस्टर्न डिस्टर्बेंस तेजी से जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड की ओर बढ़ रहा है। बीते दिन गुरुवार को यह जम्मू-कश्मीर से 1500 किलोमीटर की दूरी पर था और 500 किलोमीटर प्रतिदिन की रफ्तार से इस ओर बढ़ रहा है।
मौसम विभाग के डायरेक्टर दुरई स्वामी के मुताबिक, दो फरवरी की रात तक यह पश्चिमी पाकिस्तान और जम्मू-कश्मीर के कुछ इलाकों में पहुंच जाएगा। इसके पहुंचने से पहाड़ी इलाकों में बारिश और बर्फबारी होगी, जबकि दिल्ली सहित मैदानी इलाके पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश व राजस्थान में ओलों के साथ-साथ दो से छह फरवरी के बीच बारिश होगी। चार और पांच फरवरी को पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश होगी। इसका असर मैदानी इलाकों पर भी पड़ेगा, इस दौरान कोहरा भी रहेगा। स्वामी के मुताबिक, सात से दस फरवरी तक पाकिस्तान और अफगानिस्तान की ओर से सर्द हवाएं चलेंगी। इन हवाओं के कारण न्यूनतम तापमान गिरकर पांच औऱ छह डिग्री तक नीचे चला जाएगा।
मौसम के इस बदलाव के लिए पश्चिमी विच्छोभ (वेस्टर्न डिस्टर्बेंस) को जिम्मेदार बताया जा रहा है। ईरान और इराक से आगे मेडिटेरैनियन, कैस्पियन और ब्लैक सी हैं, ये तीनों आसपास पड़ते हैं। समुद्री इलाके होने के कारण यहां गर्मी और नमी रहती है। कम दबाव के कारण इन समुद्रों की ओर ठंडी हवाएं चलती हैं। गर्म और ठंडी हवाओं के मिलने से यहां हवाएं नमी लेकर ऊपर की ओर उठने लगती हैं। फिर चक्रवात का रूप ले लेती हैं। ये चक्रवाती हवाएं पाकिस्तान होते हुए जम्मू-कश्मीर की ओर बढ़ती हैं।


Updated : 2013-02-01T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top