Latest News
Home > Archived > मछुआरों पर हमला: जयललिता ने पीएम को लिखा पत्र

मछुआरों पर हमला: जयललिता ने पीएम को लिखा पत्र

मछुआरों पर हमला: जयललिता ने पीएम को लिखा पत्र
X

चेन्नई | तमिलनाडु सरकार ने केंद्र से कहा है कि भारतीय मछुआरों पर बिना उकसावे के हमले करने और उन्हें गिरफ्तार करने की कार्रवाई समाप्त करने के लिए श्रीलंका सरकार पर दबाव बनाया जाए और इस तरह के हमले अगले महीने दोनों पक्षों के मछुआरा समुदायों के प्रतिनिधियों के बीच प्रस्तावित वार्ता के लिए अनुकूल माहौल नहीं बनने देंगे। मुख्यमंत्री जयललिता ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से कहा है कि जहां राज्य सरकार भारत और श्रीलंका के मछुआरों के बीच बातचीत सुगम बनाने में सुलह का रास्ता अपना रही है वहीं यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे मछुआरों पर हमले और उन्हें बंधक बनाने के मामलों में कमी नहीं आई है। जयललिता ने 30 दिसंबर को प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा कि इस तरह के हमले जारी रहने और बंधक बनाने से दोनों देशों के मछुआरा संघों के स्तर पर किसी सार्थक बातचीत के लिए सुखद माहौल नहीं बनेगा। इसलिए मैं दोहराना चाहूंगी कि भारत सरकार को सख्त रख अपनाना चाहिए और श्रीलंका सरकार पर इस तरह के बिना उकसावे के हमलों और गिरफ्तारियों को समाप्त करने के लिए दबाव बनाना चाहिए।
पत्र के अनुसार मुख्यमंत्री ने कहा है कि दोनों देशों के मछुआरा समुदाय के प्रतिनिधियों के बीच यहां 20 जनवरी को बातचीत के राज्य सरकार के प्रस्ताव पर खबरों के मुताबिक केंद्र भी सहमत है। फिर भी केंद्र से औपचारिक पुष्टि का इंतजार है। श्रीलंकाई नौसेना द्वारा 28 और 29 दिसंबर को पुथुकोट्टई और रामनाथपुरम जिलों से 40 मछुआरों की गिरफ्तारी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस तरह के हमलों ने राज्यभर के मछुआरा समुदाय में तनाव का माहौल पैदा कर दिया है।

Updated : 2013-12-31T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top