Latest News
Home > Archived > मुजफ्फरनगर में रामलीला के दौरान पथराव, तनाव बढ़ा

मुजफ्फरनगर में रामलीला के दौरान पथराव, तनाव बढ़ा

मुजफ्फरनगर | उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में कुछ शरारती तत्वों ने शुक्रवार रात रामलीला के दौरान पथराव किया, जिसके बाद रामलीला स्थल पर अफरा तफरा मच गई। पत्थर लगने से एक महिला घायल हो गई। क्षेत्र में एक बार फिर माहौल तनावपूर्ण हो गया। पूरे इलाके में अर्धसैनिक बलों और पुलिस की तैनाती कर दी गई है।
जिले के कवाल गांव में शुक्रवार रात रामलीला मंचन के दौरान कुछ अज्ञात शरारती तत्वों ने दर्शकों की तरफ दो पत्थर फेंके, जिससे वहां पर भगदड़ मच गई। कवाल वही गांव है, जहां विगत 27 अगस्त को छेड़खानी की एक घटना को लेकर हुए विवाद में तीन लोगों की मौत के बाद पूरे जिले में हिंसा भड़क गई थी और 62 लोगों की मौत हुई और 43,000 से अधिक बेघर हुए थे।
सूत्रों के अनुसार रामलीला के मंचन के दौरान आधी रात को पत्थरबाजी की गई। इसके बाद दर्शकों में भगदड़ मच गई।
क्षेत्राधिकारी मुकेश चंद्र मिश्रा तत्काल घटनास्थल पर पहुंचे और इलाके में पुलिस को तैनात किया। एक अधिकारी ने बताया कि स्थिति तनावपूर्ण मगर नियंत्रण में है।
स्थानीय थाने (बुढ़ाना) के वरिष्ठ उपनिरीक्षक राजेंद्र भड़ाना ने बताया कि घटना के बाद क्षेत्र में माहौल तनावपूर्ण हो गया, लेकिन फिलहाल स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। एहतियात के तौर पर पूरे इलाके में अर्धसैनिक बलों और पुलिस की तैनाती की गई है।
भड़ाना ने कहा कि पथराव करने वाले शरारती तत्वों की खोज की जा रही है, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। माना जा रहा है कि यह शरारती तत्वों द्वारा जिले का माहौल खराब करने की कोशिश है।
बीते 24 घंटों के दौरान जिले के भोपा इलाके में एक युवक और आर्यापुरी में एक महिला की अज्ञात लोगों ने हत्या कर दी। गुरुवार को दो लोगों की हत्या की घटना ने लोगों के भीतर घबराहट पैदा कर दी है। पुलिस ने कहा कि यह शरारती तत्वों का शहर के माहौल को बिगाड़ने का प्रयास है।

Updated : 2013-10-12T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top