Home > Archived > भारतीय जवानों की हत्‍या पर पाकिस्तानी उच्चायुक्त को तलब किये जाने की संभावना

भारतीय जवानों की हत्‍या पर पाकिस्तानी उच्चायुक्त को तलब किये जाने की संभावना

भारतीय जवानों की हत्‍या पर पाकिस्तानी उच्चायुक्त को तलब किये जाने की संभावना
X

नई दिल्ली | भारत ने पाकिस्तान से कठोर शब्दों में कहा है कि जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा की मर्यादा को बनाए रखे। सूत्रों के मुताबिक एक हमले में पाकिस्तानी सैनिकों ने सीमा पारकर भारतीय सीमा में प्रवेश किया और गश्त लगा रहे सेना के एक गश्ती दल पर हमला कर दो सैनिकों की गला काटकर नृशंस हत्या कर दी। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंग ने पाकिस्तानी सैनिकों की तरफ से गोलीबारी पर गृह मंत्रालय, एनएसए और सेना प्रमुख से रिपोर्ट मांगी है। सूत्रों के अनुसार इस मामले में पाकिस्तानी उच्चायुक्त को तलब किया जा सकता है और सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी की बैठक भी बुलाई जा सकती है। भारत सरकार ने पाकिस्तान की और से किए गए युद्धविराम उल्लंघन की कड़ी निंदा की है। रक्षा मंत्रालय के अनुसार, सरकार इस घटना को उकसावे की कार्रवाई मानते हुए इसकी निंदा करती है। रक्षा मंत्री ए. के. एंटनी ने बुधवार को कहा कि पाकिस्‍तान की यह कार्रवाई अत्‍यधिक उकसाने वाली है। हम पाक सेना की इस बर्बर घटना पर पाकिस्‍तान से विरोध दर्ज करवाएंगे। एंटनी ने यह भी कहा कि भारतीय सैनिकों के साथ यह बर्ताव अमानवीय है। पाक सैनिकों ने अमानवीय व्‍यवहार किया है। सरकार इस पूरे हालात पर नजर बनाए हुए है। भारत इस हमले के विरुद्ध पाकिस्तान सरकार के समक्ष अपना विरोध दर्ज कराएगा, डीजीएमओ इस मामले को अपने पाकिस्तानी समकक्ष के समक्ष उठाएंगे। सूत्रों के अनुसार, भारत के डीजीएमओ इस घटना पर पाक के डीजीएमओ से बात करेंगे। फायरिंग का शक 29 पाक बलूच रेजिमेंट पर है। विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने एक चैनल से कहा कि वह जम्मू एवं कश्मीर में पाकिस्तानी जवानों द्वारा दो भारतीय सैनिकों की नृशंस हत्या का मुद्दा पाकिस्तान के समक्ष मजबूती से उठाएगा। भारतीय सैनिकों की हत्या व उनके शरीर को क्षत-विक्षत किया जाना 'बेहद संवेदनशील' और 'हर किसी के लिए चिंता का विषय है।'उन्होंने कहा, "ये ऐसे मामले हैं, जिन पर हमारी ओर से क्या किया जाएगा, यह कहने से पहले बहुत सावधानीपूर्वक हर पहलू से जांच की जानी चाहिए।"भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा राज्यसभा के नेता प्रतिपक्ष अरुण जेटली ने कहा कि ये हमला भारत के लिए बड़ी चेतावनी है। भारतीय सैनिकों पर सुनियोजित तरीके से हमला किया गया। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि यह घटना पूर्वाह्न् 11.30 बजे हुई। पाकिस्तानी सैनिकों ने दो भारतीय जवानों की हत्या कर दी और उनमें से एक के शव के टुकड़े-टुकड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि जवान के शव के साथ की गई क्रूरता की हम कड़ा निंदा करते हैं। पाकिस्तान ने दो भारतीय जवानों की हत्या की जिम्मेदारी लेने से इनकार किया है, लेकिन भारतीय अधिकारियों ने इसे झूठ करार देते हुए उसके दावे को खारिज कर दिया। सेना के सूत्रों ने कहा कि छापेमारी करने आए पाकिस्तानी सैनिक शहीद हुए भारतीय जवानों के हथियार भी उठा ले गए। समाचारों के अनुसार, पाकिस्तानियों को जब भारतीय चौकी कंटीले घेरे के बिल्कुल करीब दिखी तो वे वहां पहुंच गए। सेना ने घुसपैठ रोकने के लिए नियंत्रण रेखा से लगते भारतीय क्षेत्र में त्रिस्तरीय बाड़बंदी कराई है। भारतीय क्षेत्र में दो किलोमीटर तक लगभग 500 मीटर चौड़ी बाड़बंदी कराई गई है। लेकिन घुसपैठियों ने घने कोहरे का फायदा उठाया। वे जंगली इलाके में लगे कंटीले बाड़ को काटकर भारत की सीमा में घुस आए। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानियों के इस हमले को लेकर आधिकारिक स्तर पर कड़ा रुख अपनाया जा रहा है।

Updated : 2013-01-09T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top