Latest News
Home > Archived > भारत ने तत्काल वीजा सेवा पर लगाई रोक

भारत ने तत्काल वीजा सेवा पर लगाई रोक

भारत ने तत्काल वीजा सेवा पर लगाई रोक
X

नई दिल्ली | भारत ने सीनियर सिटीजन के लिए वाघा बॉर्डर पर पहुंचते ही मिलने वाली तत्काल वीजा सेवा बंद कर दी है। ये वीजा सेवा आज से ही शुरू होने वाली थी। भारत ने तकनीकी वजहों का हवाला देकर वीजा सेवा रोकी है। एलओसी पर हुई घटना के बाद वीजा नीति का विरोध हो रहा था। दरअसल, भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव ही इसके लिए असल वजह मानी जा रही है। एलओसी पर दो भारतीय सैनिकों की बेरहमी से हत्या करने के बाद से ही भारत–पाक के बीच विवाद पर तनाव बना हुआ है| इसे लेकर भारत ने कड़ा विरोध तो जताया ही है, आर्मी चीफ ने पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने की चेतावनी भी दी है। इसके अलावा आज उत्तरी कमान के चीफ ले. जनरल परनायक ने भी पाकिस्तान को उकसावे की कार्रवाई से बाज आने की चेतावनी दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भारतीय जाँच एजेंसियों द्वारा अंतिम समय पर इस नीति को लागू करने के संबंध में कुछ सवाल खड़े किए गए जिसके बाद सरकार ने फिलहाल इसे लागू नहीं किया गया है। माना जा रहा है कि पाकिस्तानी फौजियों द्वारा दो भारतीय सैनिकों की हत्या के बाद से दोनों देशों के बीच व्याप्त तनाव को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही इस्लामाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग ने कहा था कि 15 जनवरी से वाघा सीमा पर पहुंचने वाले पाकिस्तान के 65 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए बॉर्डर पर ही तत्काल वीजा जारी किया जाएगा। यह प्रावधान भारत-पाकिस्तान के बीच पिछले साल हुए द्विपक्षीय वीज़ा करार के तहत लागू किया जाना था जिसके अनुसार वाघा-अटारी आव्रजन चौकी पर पहुंच कर वहीं वीज़ा पाने वाले पाकिस्तानी नागरिक जम्मू-कश्मीर, पंजाब केरल और कुछ अन्य इलाकों को छोड़कर भारत में किसी भी स्थान का दौरा कर सकेंगे। अब भारत की ओर से तकनीकी कारणों का हवाला देकर इस फैसले का लागू किया जाना टाल दिया गया है। अब कहा जा रहा है कि सरकार इस मामले में उचित समय पर फैसला लेगी हालांकि दोनों देशों के बीच व्याप्त तनाव को देख कर इसका जल्द लागू किया जाना संभव नहीं दिख रहा है।



Updated : 2013-01-15T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top