Home > Archived > फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी में फंसे कांग्रेसी सांसद

फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी में फंसे कांग्रेसी सांसद

फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी में फंसे कांग्रेसी सांसद
X


$img_titleनई दिल्ली :
पूर्वोत्तर में हुई हिंसा के बाद केंद्र सरकार द्वारा कई वेबसाइटों को प्रतिबंधित कर दिया गया था। बावजूद इसके सोशल साईट फेसबुक के माध्यम से लोग अफवाह की खबरें प्रसारित कर रहे हैं। बात सिर्फ इतनी ही नहीं, अगर यह काम शीर्ष पर बैठा कोई व्यक्ति करे तो और भी गंभीर हो जाता है। इस बाबत आज पूर्वी दिल्ली नगर निगम की महापौर डॉ. अन्नपूर्णा मिश्रा ने दिल्ली पुलिस आयुक्त नीरज कुमार से जानकारी देने के लिए मुलाकात की। महापौर ने पुलिस आयुक्त को बताया कि संसद सदस्य पी एल पुनिया (भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं प्रवक्ता) के द्वारा फेसबुक पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम एक पत्र के सन्दर्भ में प्रेस नोट पोस्ट किया गया है। जिसकी भाषा, एवं सामग्री दोनों ही भ्रामक हैं। महापौर ने कहा कि ये बातें भारत सरकार द्वारा अफवाह बताई जा रही बातों को ही प्रचारित एवं प्रसारित करने के उद्देश्य से लिखी गयी हैं। महापौर ने इस बात की पुष्टि करते हुए पुनिया के फेसबुक पेज का लिंक http://www.facebook.com/pl.punia आयुक्त को दिया।पत्र में पुनिया ने लिखा है कि म्यांमार देश में मुस्लिमों पर अत्याचार किया जा रहा है। सरेआम मुस्लिम संप्रदाय के लोगों को नग्नावस्था में मारा जा रहा है, हाथ-पैर काटे जा रहे हैं। बच्चों और महिलाओं तक को मौत के घाट उतरा जा रहा है। इस मामले को संज्ञान में लेकर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने के आरोप में सांसद के खिलाफ तुरंत कार्यवाही को लेकर डॉ. मिश्रा ने आयुक्त से कहा।बता दें कि इस सम्बन्ध में भारत सरकार द्वारा जन साधारण को जानकारी दी गयी कि म्यांमार में मुस्लिमों के खिलाफ हिंसा कि झूठी खबरों व अफवाहों के द्वारा देश के मुस्लिम समाज में एक डर एवं नफरत पैदा करने कि साजिश की जा रही है। भारत सरकार ने इस संबंध में पाकिस्तान से संचालित कुछ वेबसाइट्स को प्रतिबंधित भी किया।



Updated : 2012-08-24T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top