Home > Archived > मंगल पर दिखे 6,35,000 गड्ढे

मंगल पर दिखे 6,35,000 गड्ढे

मंगल पर दिखे 6,35,000 गड्ढे
X


वाशिंगटन
। अध्ययन में सामने आया है कि मंगल ग्रह को वर्षों पहले सौर$img_title मंडल में सबसे अधिक उथल-पुथल और उल्कापातों से गुजरना पड़ा होगा। वैज्ञानिकों के अनुसार इस ग्रह पर सबसे ज्यादा विशाल गड्ढे यानी क्रेटर हैं। इनमें से कई गड्ढे तो एक किलोमीटर से भी ज्यादा चौड़े हैं। ग्रह पर लगभग 6,35,000 के करीब गड्ढे हैं। रॉबिन्स और ब्रायन हायनेक नाम के दो शोधकर्ताओं द्वारा ये शोध किया गया है। शोधर्ताओं ने यह जानकारी लाल ग्रह के चारों ओर चक्कर काट रहे उपग्रहों की मदद से प्राप्त की है। जिसके अनुसार ग्रह पर 500 मीटर से अधिक लंबाई या चौड़ाई के करीब 6,35,000 गड्ढे हैं। उन्होंने कहा, “हमने मंगल का नया क्रेटर एटलस तैयार किया है, जो किसी ग्रह या उपग्रह पर हुए उल्कापातों से बने गड्ढों का अब तक का सबसे बड़ा डाटाबेस है”। यूनिवर्सिटी ऑफ कोलरैडो के प्रमुख शोधकर्ता स्टुअर्ट रॉबिन्स ने बताया, इन जानकारियों के आधार पर मंगल ग्रह से जुड़े अध्ययन में काफी मदद मिलेगी। रॉबिन्स और सह-शोधकर्ता ब्रायन हायनेक ने मंगल की कक्षा और सतह पर भेजे गए यानों से जुटाए गए विवरणों के आधार पर यह डाटाबेस तैयार किया। उन्होंने कहा कि इन गड्ढों के विवरण के आधार पर इस ग्रह और इसके इतिहास को लेकर बहुत कुछ जानने में मदद मिलेगी। इस अध्ययन को ‘जर्नल ऑफ जियोफिजिकल रिसर्च’ में प्रकाशित किया गया है। 

Updated : 2012-06-22T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top