Latest News
Home > Archived > भोपाल में आयुर्वेद सम्मेलन, हिस्सा लेंगे 26 देशों के प्रतिनिधि

भोपाल में आयुर्वेद सम्मेलन, हिस्सा लेंगे 26 देशों के प्रतिनिधि

भोपाल | मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पांचवां आयुर्वेद सम्मेलन और आरोग्य प्रदर्शनी आयोजित होने जा रही है। सात से 10 दिसंबर तक चलने वाले इस सम्मेलन में 26 देशों के 200 विदेशी प्रतिनिधियों सहित आयुर्वेद के 4,000 विशेषज्ञ, छात्र, शोधार्थी और चिकित्सक शामिल होंगे। मध्य प्रदेश शासन, विज्ञान भारती, आरोग्य भारती और वर्ल्ड आयुर्वेद फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित होने वाले इस आयोजन को सफल बनाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को निर्देश जारी किए। मुख्यमंत्री चौहान ने इस सम्बंध में बुधवार को सम्बंधित विभाग के अधिकारियों की बैठक बुलाई। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद उपयोगी और प्राचीन चिकित्सा पद्घति है। इस पद्घति में रोग के मूल कारण की पहचान कर उसका स्थाई उपचार किया जाता है। बैठक में बताया गया कि आयुर्वेद सम्मेलन और आरोग्य प्रदर्शनी के दौरान विभिन्न कार्यक्रम होंगे। जन जागृति के लिए ग्वालियर, रीवा और बुरहानपुर से भगवान धन्वंतरी की यात्रा 20 नवंबर से प्रारम्भ होकर 24 नवंबर को भोपाल पहुंचेगी। विश्व आयुर्वेद कांग्रेस के दौरान देश के समस्त पांच आयुर्वेद विश्वविद्यालयों के कुलपति भोपाल में होंगे। इस दौरान पांच हजार रोगियों का नि:शुल्क उपचार किया जाएगा। साथ ही प्रशिक्षण, अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक-छात्र सम्मेलन, पंचकर्म, क्षारकर्म, कार्यशालाओं, आरोग्य प्रदर्शनी, आयुर्वेद में वैज्ञानिक लेखन और अंतर्राष्ट्रीय प्रतिनिधियों की सभा भी आयोजित की जाएगी। सम्मेलन को 157 वक्ता सम्बोधित करेंगे। इस दौरान शोध के 252 पत्र पढ़े जाएंगे, 430 का प्रदर्शन और 192 का प्रकाशन किया जाएगा। इस अवसर पर औषधीय पौधों की 225 प्रजातियों का प्रदर्शन भी किया जाएगा।


Updated : 2012-11-08T05:30:00+05:30
Next Story
Share it
Top