Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > अन्य > कानपुर में जहरीली शराब से हुई मौतों की होगी मजिस्ट्रियल जांच

कानपुर में जहरीली शराब से हुई मौतों की होगी मजिस्ट्रियल जांच

-एक चौकी इंचार्ज सहित तीन पुलिस कर्मी निलम्बित

कानपुर में जहरीली शराब से हुई मौतों की होगी मजिस्ट्रियल जांच

कानपुर। कानपुर जिला के घाटमपुर में जहरीली शराब से हुई दो मौतों की जांच के लिए जिलाधिकारी ने मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। शराबकांड की घटना में पुलिस की चूक भी सामने आई है जिसके चलते वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने साढ़ चौकी इंचार्ज सहित तीन पुलिस कर्मियों को निलम्बित कर दिया है।

घाटमपुर के कोरथा के सुखईयापुरवा गांव में जहरीली शराब पीने से गांव के कई लोगों की तबीयत खराब हो गई। शनिवार को गांव के वीरेन्द्र यादव(25) व शिव शंकर उर्फ बाबू (46) की मौत हो गई, जबकि जहरीली शराब से नरेन्द्र, कल्लू व एक अन्य सहित तीन लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। इस घटना के बाद गांव में मृतकों के परिजनों के साथ ही ग्रामीणों ने पुलिस के खिलाफ जमकर हंगामा काटा और चौकी इंचार्ज व स्थानीय पुलिस की सरपरस्ती में जहरीली शराब बेचने का आरोप लगाया। गांव में तनाव बढ़ता देख देर रात जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत पहुंचे और ग्रामीणों से बातचीत की। उन्होंने जहरीली शराब से हुई दो मौतों व प्रकरण को लेकर मजिस्ट्रेटियल जांच के आदेश दिया। उन्होंने बताया कि मृतकों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर प्रकरण में दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

चौकी इंचार्ज सहित तीन निलम्बित

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनंत देव ने घाटमपुर थानाक्षेत्र में हुए जहरीली शराब कांड की घटना को गंभीरता से लिया है। शुरुआती जांच व पूछताछ के आधार पर पुलिस के आलाधिकारियों को पता चला है कि गांव में रहने वाला राहुल यादव पूर्व में शराब का सेल्समैन था। इसको छोड़ने के बाद वह गांव में परचून की दुकान में मिलावटी शराब बेचता है। इस शराब को पीन से गांव के लोगों की तबीयत खराब हुई है और दो लोगों की मौत हो गई। एसएसपी ने घटना में प्रथम दृष्टया साढ़ चौकी इंचार्ज देवेन्द्र सोलंकी व दो बीट पुलिस कर्मियों की लापरवाही को देखते हुए उन्हें निलम्बित कर दिया है। साथ ही प्रकरण के पुलिस अधीक्षक ग्रामीण प्रद्युमन सिंह जांच कर रहे हैं।

Tags:    

Swadesh Digital ( 8868 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top