Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > मथुरा > शिक्षा विभाग में हुए फर्जीवाड़े की शिकायत मेरी सिफारिश पर हुई थी-श्याम

शिक्षा विभाग में हुए फर्जीवाड़े की शिकायत मेरी सिफारिश पर हुई थी-श्याम

मथुरा में हुए फर्जी शिक्षक घोटाले का खुलासा एसटीएफ द्वारा भले ही कर दिया गया हो लेकिन अभी प्यादे ही हाथ लगे हैं।

शिक्षा विभाग में हुए फर्जीवाड़े की शिकायत मेरी सिफारिश पर हुई थी-श्याम

अकेले मथुरा में 207 फर्जी शिक्षक प्रकाश में आ चुके हैं अभी मोहरे पकड़े हैं, शातिर जालसाज बचे हैं

मथुरा । मथुरा में हुए फर्जी शिक्षक घोटाले का खुलासा एसटीएफ द्वारा भले ही कर दिया गया हो लेकिन अभी प्यादे ही हाथ लगे हैं। शातिर लोगों की गिरफ्तारी एवं पूरा खुलासा होना बाकी है। बुधवार को प्रदेश के पूर्व मंत्री एवं विधान सभा के आश्वासन समिति के सभापति विधायक पं. श्याम सुंदर शर्मा ब्रज प्रेस क्लब पर पहुंचकर पत्रकारों से अनौपचारिक वार्ता में चौंकाने वाले खुलासे करते हुए कहा कि उन्हें प्रदेश के अपर मुख्य सचिव स्तर के अधिकारी ने खुद फोन करके आज ही जानकारी दी है कि अकेले मथुरा में 207 फर्जी शिक्षक गुरूजी बन वेतन खींच रहे हैं।

पूर्व मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि यह कोई छोटा घोटाला नहीं है। यह बहुत पुराना घोटाला और बहुत पहले से चला आ रहा है। मैंने इस फर्जी घोटाले को विधान सभा में भी कई बार उठाया। प्रदेश सरकार की विधान सभा आश्वासन समिति का अध्यक्ष होने के नाते मेरी ही सिफारिश पर यह जांच प्रारंभ हुई। उन्होंने इसके खुलासे पर संतोष जाहिर करते हुए कहा कि अगर एसटीएफ व मथुरा के एसएसपी प्रभाकर चौधरी इसी तरह कार्य करें तो इसका संपूर्ण खुलासा जरूर होगा लेकिन इसमें कोई भी शासन से कोई भी दबाव नहीं आना चाहिए।

उन्होंने बताया कि फर्जी घोटालों का दौर 2005 से चल रहा है। अब इसकी जड़े पूरे प्रदेश में फैल चुकी है। अभी एसटीएफ द्वारा जो कार्यवाही की गई है। उसमें सिर्फ मोहरे पकड़े गए हैं। अभी असली जालसाजों की गिरफ्तारी शेष है। उन्होंने फर्जीवाड़े से अपनी आलीशान कोठियां, कोल्ड स्टोरेज, फार्महाउस, स्कूल-कालेज तक खोल लिए हैं। ऐसे लोगों की पूर्ण निष्पक्ष तरीके से जांच होकर उनकी गिरफ्तारी ही नहीं उनकी संपत्तियां भी जब्त होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए वह पूरी ताकत से फिर इस मसले को विधान सभा में उठायेंगे और इसका संपूर्ण खुलासा कराकर ही दम लेंगे।




Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top