Top
Home > राज्य > उत्तरप्रदेश > मथुरा > वृंदावन अर्धकुुंभ को दिव्य एवं भव्य बनाने में जुटे संतगण

वृंदावन अर्धकुुंभ को दिव्य एवं भव्य बनाने में जुटे संतगण

-वृंदावन अर्धकुंभ को राष्ट्रीय मेला घोषित करने की रखी मांग

वृंदावन अर्धकुुंभ को दिव्य एवं भव्य बनाने में जुटे संतगण

वृंदावन। हरिद्वार कुंभ मेला के अंतर्गत 2021 में वृंदावन में लगने वाले अर्धकुंभ मेला को दिव्य एवं भव्य बनाने की तैयारी में संतगणों ने तैयारियां करना शुरू कर दिया है। वृंदावन अर्धकुंभ मेला के संबंध में शनिवार को वृंदावन परिक्रमा मार्ग स्थित चैतन्य कुटी में तीनों अखाड़ों के प्रमुख संत व महंतों की एक बैठक में कुंभ मेले में की जाने वाली सभी व्यवस्थाओं के लिए बजट जारी करने के लिए मुख्यमंत्री उप्र योगी आदित्यनाथ के नाम संबोधित पत्र तैयार किया गया।

बैठक में निर्वाणी अखाड़े के धर्मदास जी महाराज ने कहा हम लोगों की एक मांग है आज वृंदावन अर्धकुंभ मेला के लिए जमीन सुरक्षित की जाए तथा प्रयागराज एवं हरिद्वार जैसी व्यवस्था भी की जाए। उन्होंने कहा कि वृंदावन अर्धकुंभ को राष्ट्रीय मेला घोषित किया जाए। क्योंकि यहां पर देशभर के वैष्णव समाज के संत कुंभ में आते हैं और एक माह तक प्रवास करते हैं। इस दौरान तीन शाही स्नान भी होते हैं।

सभी संतों ने अर्धकुंभ मेला के सम्बंधन में तैयार पत्र को विधायक कारिंदा सिंह व पूरन प्रकाश को सौंपा। विधायक कारिंदा सिंह ने कहा कि हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि हम संतों की बैठक मुख्यमंत्री के साथ कराएं और आने वाले वृंदावन अर्धकुंभ 2021 को दिव्य व भव्य बनाएं।

बैठक की अध्यक्षता फूलडोल बिहारीदास जी ने की। बैठक में महंत सच्चिदानंद जी, शंकर दास जी, महंत संत हरि बोल महाराज, राधा कृष्ण पाठक, मृदुल कांत शास्त्री, डॉ मनोज मोहन शास्त्री, राज नारायण द्विवेदी, डाॅ. विनोद बनर्जी, बाबा मुकुंद दास, उदयन शर्मा, महंत गोपीकृष्ण, महंत सुरेश दास, महंत बिहारी दास, गोविंद दास, महंत कमलदास, कैप्टन हरिहर, सुतीक्षण दास, महंत राम स्वरूप दास आदि संतगण उपस्थित रहे।

स्वदेश आगरा ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Share it
Top