Home > राज्य > अन्य > भारतीय सीमा में अवैध रूप से घुसे पांच विदेशी नागरिक गिरफ्तार

भारतीय सीमा में अवैध रूप से घुसे पांच विदेशी नागरिक गिरफ्तार

भारतीय सीमा में अवैध रूप से घुसे पांच विदेशी नागरिक गिरफ्तार

किशनगंज। भारतीय सीमा में पांच संदिग्ध विदेशी नागरिकों को सुखानी थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर शनिवार को स्थानीय सीजेएम कोर्ट में प्रस्तुत किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। उक्रेन नागरिकों में दो महिलाएं भी हैं। पुलिस मामले की गंभीरता से छानबीन कर रही है।

इस संबंध में जिला पुलिस कप्तान कुमार आशीष ने शनिवार को बताया कि सुखानी थाना क्षेत्र में 12वीं बटालियन के एसएसबी जवानों ने गुरुवार की शाम को भारतीय सीमा पिलर संख्या 119 के अंदर संदिग्धावस्था में पांच लोगों को पकड़ा था। एसएसबी ने यूूूक्रेन के नाागरिकों को हिरासत में लेेेकर सभी को सुखानी पुलिस को सुपुर्द कर दिया था। पकड़े गये पांचों उक्रेन निवासियों में दो महिला और तीन पुरुष हैं, जिनके नाम मारियाना रुडीक (30), ब्लादिमीर कोवालचक (33), लिलिया कोवालचक (35), ओलेकासन्दर काप्टजेन (35) और इवान सिक (26) हैंं। बताया गया कि पांचों लोग दो नेपाल नंबर की बाइक पर सवार होकर भारतीय सीमा में घुसे थे। उसके बाद एसएसबी जवानों ने उन्हें पकड़ा था।

अभी तक पुलिस पूूछताछ में जानकारी मिली है कि ये लोग नेपाल भ्रमण पर उचित बीजा पासपोर्ट लेकर आए थे और झापा जिले के नीजी विद्यालय में रूके हैंं। जहां से नेपाल की बाइक किराये पर लेकर भ्रमण के लिये निकले थे और गलती से भारतीय सीमा में आ गये।

पुलिस कप्तान ने बताया कि एसएसबी जवानों के पकड़ने के बाद इन लोगों के पास से कोई कागजात नहींं मिलेे थे। मगर इन लोगों ने मोबाइल पर अपने बीजा पासपोर्ट का डिटेल दिखाया। सीमा सुरक्षा बल ने इन्हें पुलिस को सौंप दिया था। इसके साथ नेपाल के नंबर कर दो बाइक भी जब्त हुई है। एसपी आशीष ने बताया कि पुलिस अपनी जांच में और भी तथ्यों की जानकारी जुटा रही है, जिसमें नेपाल सरकार के संबंधित ठिकाने और अधिकारियों से भी जानकारी जुटाने के बाद आरोप पत्र न्यायालय को सौंपा जायेगा। शनिवार को पुलिस ने पांचों विदेशी नागरिकों को स्थानीय न्यायालय में पेश किया गया। जहां से न्यायालय के आदेश पर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

न्यायालय में पेश करने के दौरान विदेशियों को फोन का प्रयोग करने के सवाल पर एक अधिवक्ता अजित दास ने बताया कि यह विधिसंवत नहीं है। इन विदेशियों को गिरफ्तार या हिरासत में लेने के बाद मोबाइल भी जब्त होनी चाहिये। इस संबंध में एसपी आशीष ने बताया कि उसे अभी हिरासत में रखा है, जब न्यायिक हिरासत में जायेंगे तो सभी सामानों को जब्त किया जायेगा।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top