Home > राज्य > अन्य > महाराष्ट्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बोले - शिवसेना से गठबंधन की चर्चा अंतिम दौर में, जल्द होगी घोषणा

महाराष्ट्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बोले - शिवसेना से गठबंधन की चर्चा अंतिम दौर में, जल्द होगी घोषणा

महाराष्ट्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बोले - शिवसेना से गठबंधन की चर्चा अंतिम दौर में, जल्द होगी घोषणा

मुंबई। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत दादा पाटिल ने मंगलवार को बताया कि भाजपा- शिवसेना में गठबंधन को लेकर चल रही बातचीत अंतिम चरण में है। जल्द चुनावी गठजोड़ की घोषणा कर दी जाएगी।

पाटिल भाजपा प्रदेश मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना पक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ बातचीत चल रही है। गठबंधन को लेकर बातचीत का अंतिम दौर है। शीघ्र ही दोनों दलों के चुनावी गठबंधन की घोषणा कर दी जाएगी। फडणवीस और उद्धव ठाकरे की बातचीत गठबंधन को लेकर बीच-बीच में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी होती रहती है। तीनों मिलकर फैसला ले लेंगे।

उल्लेखनीय है कि अमित शाह गुरुवार को मुंबई आ रहे हैं। वे महागठबंधन को लेकर घोषणा कर सकते हैं। सोमवार की देर रात तक गठबंधन लेकर दोनों पार्टियों के नेताओं के बीच मंथन चलता रहा, लेकिन कोई फैसला नहीं हो सका। लिहाजा मंगलवार को गठबंधन की घोषणा टाल दी गई। सूत्रों की मानें तो भाजपा और शिवसेना में 10 सीटों को लेकर खींचतान जारी है। दोनों पार्टियों में टिकट को लेकर आंतरिक कलह न हो, इसलिए कोई जल्दबाजी की जरूरत नहीं की जा रही है। एबी फॉर्म देते समय आंतरिक कलह न हो, इसलिए सोच समझकर कदम उठाए जा रहे हैं।

इधर, शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राऊत का कहना है भाजपा को लोकसभा चुनाव के दौरान लिए गए निर्णय पर अमल करना चाहिए। अमित शाह, मुख्यमंत्री फडणवीस और उद्धव ठाकरे ने उन दिनों विधानसभा चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर भी फैसला किया था। भाजपा को अपने वादे पर अमल करना चाहिए। राऊत के मुताबिक वर्ष 2014 के चुनाव में शिवसेना सरकार बनाने में साथ नहीं देती और विरोध करती तो स्थिति अलग होती। इस पर चंद्रकांत पाटिल ने पलटवार करते हुए कहा कि शिवसेना को उसी समय अपना फैसला लेकर विरोध करना चाहिए था। अब इस मुद्दे पर बोलकर कोई फायदा नहीं है। पाटिल ने कहा कि विधानसभा चुनाव में दोनो दलों का गठबंधन होकर रहेगा। जल्द महागठबंधन की घोषणा कर दी जाएगी। हालाकि उन्होंने यह भी कहा कि गठबंधन पर उनका बोलना उचित नहीं है। उच्च स्तर पर मुख्यमंत्री फडणवीस और उद्धव ठाकरे आपस में बातचीत कर रहे हैं।

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे को पार्टी में शामिल करने के सवाल पर चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि फिलहाल इस पर कोई चर्चा नहीं है। जो भी फैसला होगा वह शिवसेना को विश्वास में लेकर ही होगा।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top