Home > राज्य > अन्य > नई दिल्ली > दिल्ली में गठबंधन के साथ चुनाव लडते तब भी देखना पड़ता हार का मुँह

दिल्ली में गठबंधन के साथ चुनाव लडते तब भी देखना पड़ता हार का मुँह

दिल्ली में गठबंधन के साथ चुनाव लडते तब भी देखना पड़ता हार का मुँह

नई दिल्ली। दिल्ली में भाजपा ने सातों सीटों पर जीत का परचम फहरा दिया है। अब यह बात सामने आ रही है कि यदि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन हो जाता तो क्या वे खाता खोल सकते थे। इसका अनुमान वोटों के आधार पर लगाने के बाद ज्ञात होता है कि तब भी कांग्रेस और आम आदमी पार्टी चुनाव नहीं जीत पाते।

मिली जानकारी के अनुसार, चांदनी चौक सीट पर भाजपा के हर्षवर्धन का मुकाबली कांग्रेस उम्मीदवार जेपी अग्रवाल और आप के पंकज गुप्ता से था। इस सीट पर भाजपा 519055 वोट मिले, जबकि जय प्रकाश अग्रवाल को 290910 और पंकज गुप्ता को 144551 वोट मिले हैं। यहां पर दोनों को वाेट जोड दिया जाए तब भी भाजपा की जीत पक्की नजर आती है। इसी तरह

नई दिल्ली सीट से भाजपा की मीनाक्षी लेखी दूसरी बार मैदान में थीं। यहां उनका मुकाबला कांग्रेस के दिग्गज नेता अजय माकन और आप के बृजेश गोयल से था। मीनाक्षी लेखी को 504206, बृजेश गोयल को 150342 और अजय माकन को 247702 वोट मिले हैं। यदि कांग्रेस और आप के उम्मीदवारों का वोट मिला लिया जाए तब भी भाजपा जीत नजर आती है।

इसी तरह पूर्वी दिल्ली से भाजपा की तरफ से पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर थे। वहीं आम आदम पार्टी की तरफ से कांग्रेस केअरविंदर सिंह लवली मैदान में थे। यहां गंभीर को 696156, आतिशी को 219328 और अरविंदर सिंह लवली को 304934 वोट मिले हैं। आप और कांग्रेस प्रत्याशी के वोट मिल जाए तब भी भाजपा की जीत पक्की है।

उत्तर-पूर्व दिल्ली सीट से भाजपा के प्रदेश अध्यक्षमनोज तिवारी मैदान थे। उनका मुकाबला दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित और आम आदमी पार्टी के दिलीप पांडे से था। शीला ने 421697 और पांडे ने 190856 वोट हासिल किए हैं।कांग्रेस और आप के उम्मीदवारों को वोट जोड दिया जाए तो वह भाजपा उम्मीदवार से कम वोट नजर आते हैं।

इसी तरह उत्तर-पश्चिमी दिल्ली सीट से भाजपा गायक हंसराज हंस को टिकट दिया था। इनका मुकाबला आम आदमी पार्टी उम्मीदवार गुगन सिंह और कांग्रेस के राजेश लिलोथिया से था। इस सीट पर आप और कांग्रेस प्रत्याशी के वाेट काे जोडने के बाद भी भाजपा प्रत्याशी को 317015 ज्यादा वोट मिले हैं।

दक्षिण दिल्ली सीट से भाजपा ने रमेश बिधुड़ी को मैदान में उतारा था। उनका मुकाबला आम आदमी पार्टी राघव चड्ढा और कांग्रेस के टिकट पर पूर्व बॉक्सर विजेंदर सिंह से था। रमेश बिधुड़ी को 687014, राघव चड्ढा को 319971 और विजेंदर को 164613 वोट मिले हैं। आप और कांग्रेस के प्रत्याशियों के वाेटों के जोडने के बाद भी भाजपा की जीत पक्की नजर आती है।

इसी तरह पश्चिमी दिल्ली सीट से भाजपा के टिकट पर साहिब सिंह वर्मा के पुत्र प्रवेश वर्मा को मैदान में उतारा था। उन्हें 865648 वोट मिले हैं। आम आदमी पार्टी के बलबीर सिंह जाखड़ को 251873 और कांग्रेस के महाबल मिश्रा को 287162 वोट प्राप्त हुए। यदि महाबल मिश्रा और बलबीर जाखड़ के आए वोट जोडे जाए तब भी प्रवेश वर्मा की जीत नजर आती है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 9454 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top