Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > मृतक के कारोबारी भाई को न्यायालय में दी गोली मारने की धमकी, पांच पकड़े

मृतक के कारोबारी भाई को न्यायालय में दी गोली मारने की धमकी, पांच पकड़े

मृतक के कारोबारी भाई को न्यायालय में दी गोली मारने की धमकी, पांच पकड़े

कोल्ड स्टोरेज हत्याकांड: पुलिस व लोगों ने आरोपियों को पीटा

ग्वालियर/न.सं.। सुदर्शन कोल्ड स्टोरेज के संचालक अजय गुप्ता की हत्या के मामले में गवाही देने पर पहुंचे मृतक के भाई चेंबर के पूर्व संयुक्त अध्यक्ष एवं कारोबारी हेमंत गुप्ता को उत्तरप्रदेश से आए बदमाशों ने न्यायालय परिसर में गोली मारने की धमकी दे डाली। परिजनों और पुलिस ने पांच आरोपियों को पकड़ लिया और जमकर उनकी धुनाई लगा दी। आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर पूछताछ की जा रही है।


कारोबारी हेमंत गुप्ता अपने भाई अजय गुप्ता की हत्या के मामले में बुधवार को इन्दरगंज थाना क्षेत्र स्थित न्यायालय में पेशी पर गए थे। हेमंत जब न्यायालय में थे, तभी उनको अजय की हत्या में राजीनामा नहीं करने पर उत्तरप्रदेश से आए बदमाशों ने गोली मारकर हत्या करने की धमकी दे डाली। जान से मारने की धमकी मिलते ही हेमंत के परिजन और जनता ने धमकी देने वालों को पकडक़र धुनाई लगा दी। हाईप्रोफाइल मामले में धमकी और न्यायालय में धमकी देने वालों की मारपीट का पता चलते ही पुलिस मौक पर पहुंच गई और आरोपियों को पकडक़र थाने ले आई। धमकी देने वाले गोपाल, गौरव इनके पिता पूरनसिंह सिसौदिया, देवा पुत्र विजयसिंह सिसौदिया और देवेन्द्र पुत्र जासी सिसौदिया सभी निवासीगण चौमुआ थाना वृंदावन जिला मथुरा शामिल हैं। पुलिस ने हेमंत पुत्र स्व. हरवंश गुप्ता की रिपोर्ट पर आरोपियों के खिलाफ धारा 195, 294, 506, 34 के तहत मामला दर्ज कर पूछताछ प्रारंभ कर दी है।

यह था प्रकरण

24 सितम्बर 2018 को मास्टर माइंड रामवीर कुशवाह के द्वारा भाड़े के बदमाशों से अजय गुप्ता की उस समय गोली मारकर हत्या करवा दी थी जब वह अपने कोल्ड स्टोरेज में बैठे थे। गोली मारने के बाद बदमाश 50 लाख रुपए लूटकर फरार हो गए। अजय ने 17 दिन बाद उपचार के दौरान 11 अक्टूबर को दम तोड़ दिया था। बाद में पुलिस ने कारोबारी की हत्याकांड का खुलासा करते हुए आरोपियों को पकड़ लिया था। मृतक का भाई हेमंत हत्याकांड में गवाह है।

धमकी देने वालों ने स्टेशन पर गुजारी रात

पूरनसिंह अपने दो बेटे गोपाल गौरव व देवा देवेन्द्र के साथ दो दिन पहले ही मथुरा से शहर में आ गए थे। एक दिन रेलवे स्टेशन पर ही रात बिताई उसके बाद बुधवार को सभी आरोपी किला घूमने के लिए गए थे। न्यायालय खुलने पर वह मौके पर पहुंचे और हेमंत के सामने आते ही उन्हें धमकी दी। आरोपी अपने साथ थैले लेकर आए थे जिनमें कम्बल आदि सामान था। बताया जा रहा है कि वह पूरी योजना के साथ आए थे और उनका इरादा कुछ और करने का था।

इनका कहना है

''हत्याकांड में गवाही देने गए हेमंत गुप्ता को धमकी देेने वाले पांच आरोपियों को पकड़ लिया है। उनके पास से थैले बरामद हुए हैं जिनमें कपड़े निकले हैं। इस मामले की विवेचना की जा रही है और आरोपियों से पूछताछ कर रहे हैं कि वह यहां पर किस लिए आए थे। ''

-मनीष डाबर, इन्दरगंज थाना प्रभारी

Naveen ( 1696 )

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Share it
Top