Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > जयारोग्य अस्पताल : 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारी होंगे बाहर

जयारोग्य अस्पताल : 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारी होंगे बाहर

खाद्य मंत्री तोमर लगाते रहे झाडू, कर्मचारी देखते रहे तमाशा

जयारोग्य अस्पताल  : 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारी होंगे बाहर

मामला जयारोग्य अस्पताल का, नहीं सुधर रही सफाई व्यवस्था

ग्वालियर। जयारोग्य अस्पताल की सफाई व सुरक्षा व्यवस्था सुधरने का नाम नहीं ले रही है। अस्पताल में शौचालयों से लेकर जगह-जगह गंदगी पसरी रहती है। इसी के चलते खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर जब रविवार को अस्पताल में सफाई अभियान चालने पहुुंचे तो उन्हें जगह-जगह गंदगी पसरी मिली। इतना ही नहीं, गंदगी देख खाद्य मंत्री ने खुद ही झाडू लगाना शुरू कर दी, लेकिन इस दौरान सफाई कर्मचारी और सुपरवाइजर खड़े होकर तमाशा देखते रहे।

खाद्य मंत्री श्री तोमर रविवार को अचानक जयारोग्य अस्पताल के पत्थर वाले भवन जा पहुंचे, जहां जगह-जगह गदंगी देख उन्होंने अस्पताल अधीक्षक डॉ. अशोक मिश्रा के प्रति नाराजगी व्यक्त की। श्री तोमर ने डॉ. मिश्रा से कहा कि अस्पताल में ही अगर गंदगी रहेगी तो मरीजों के स्वास्थ्य पर और विपरीत प्रभाव पड़ेगा। सफाई के लिए निजी एजेन्सी भी नियुक्त है, इसलिए कोई कारण नहीं बनता है कि अस्पताल में गंदगी रहे। सरकारी अस्पताल भी निजी अस्पतालों की तरह साफ-सुथरा रहना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि अस्पताल परिसर के सभी शौचालयों की नियमित सफाई के लिए सफाईकर्मी लगाए जाएं, जो निरंतर सफाई का कार्य करें।

50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारी होंगे बाहर

हाइट्स कम्पनी के अधिकारियों का कहना है कि नई कम्पनी में सिर्फ उन्हीं कर्मचारियों को रखा जाएगा, जिनकी उम्र 50 वर्ष या इससे कम है। सुरक्षा के कार्य में 50 वर्ष से अधिक के व्यक्ति को नहीं रखा जाएगा। इसके लिए सभी के दस्तावेजों की जांच भी की जाएगी।

गणवेश बदली लेकिन कर्मचारी नहीं बदले

जयारोग्य अस्पताल की सफाई व सुरक्षा व्यवस्था बेहतर बनाने के लिए हाइट्स ने भले ही बीवीजी कम्पनी को हटाकर यह काम यूडीएस प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी को थमा दिया हो, लेकिन सफाई व सुरक्षा में लगे कर्मचारियों की सिर्फ डे्रस ही बदली है, जबकि कर्मचारी पूर्व कम्पनी के ही काम कर रहे हैं। ऐसे में सवाल यह उठ रहा है कि जब सुपरवाइजर व कर्मचारी वही रहेंगे तो फिर व्यवस्था में सुधार कैसे होगा? इधर हाइट्स कम्पनी के अधिकारियों ने यूडीएस कम्पनी के अधिकारियों के साथ बैठक की और स्पष्ट रूप से कहा कि अगर कोई कर्मचारी काम नहीं करता है तो उसे सीधे बाहर का रास्ता दिखाया जाए।

Tags:    

Swadesh News ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Share it
Top