Home > राज्य > मध्यप्रदेश > ग्वालियर > अगले तीन दिन तक प्रदेश भर में जारी रहेगी बारिश

अगले तीन दिन तक प्रदेश भर में जारी रहेगी बारिश

दो दिन पूर्व गुजरात से होते हुए दक्षिणी मध्यप्रदेश में प्रवेश के बाद मानसून अब पूरे मध्यप्रदेश में छा गया है।

अगले तीन दिन तक प्रदेश भर में जारी रहेगी बारिश

ग्वालियर सहित पूरे मध्यप्रदेश में छाया मानसून

ग्वालियर | दो दिन पूर्व गुजरात से होते हुए दक्षिणी मध्यप्रदेश में प्रवेश के बाद मानसून अब पूरे मध्यप्रदेश में छा गया है। मंगलवार को ग्वालियर व चम्बल संभाग सहित प्रदेश के अधिकांश जिलों में हुई झमाझम बारिश के बाद बुधवार को मौसम विभाग ने मानसून के पूरे प्रदेश में सक्रिय होने की आधिकारिक घोषणा कर दी है। मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून पूरे मध्यप्रदेश में दस्तक दे चुका है। अगले 24 घण्टे में जहां अनूपपुर, शहडोल, डिंडौरी सहित नौ जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है वहीं इन्दौर, उज्जैन, सागर, ग्वालियर-चम्बल संभाग के अलावा भोपाल, राजगढ़ और हरदा जिलों में भी तेज बारिश होने की संभावना है। इस बार मानसून प्रदेश में 14 दिन विलम्ब से आया है। इस कारण कई जिलों में सामान्य से काफी कम बारिश हुई है।

स्थानीय मौसम विज्ञानी उमाशंकर चौकसे के अनुसार पिछले 24 घण्टों में इन्दौर एवं उज्जैन संभाग के अधिकांश जिलों के साथ भोपाल में अनेक स्थानों पर बारिश हुई है, जबकि ग्वालियर, गुना, मुरैना, जबलपुर, रीवा एवं शहडोल सहित कुछ अन्य जिलों में भी तेज बारिश हुई है। प्रदेश के कई जिलों में हुई बारिश को देखते हुए मौसम विभाग ने मानसून आने की घोषणा कर दी है। पिछले 24 घण्टे में सबसे ज्यादा बारिश 12 से.मी. सोनकच्छ में हुई है। इसके अलावा शुजालपुर में 9, बागली, महू, ब्यावरा में 7-7, रीवा व खंडवा में 6-6, मुरैना, खाचरौद, जावद, नीमच एवं सैलाना में 5-5 से.मी. बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने अगले 24 घण्टों में अनूपपुर, शहडोल, डिंडौरी, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, होशंगाबाद, गुना, आगर और राजगढ़ आदि जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की हैग्वालियर के पास ही है |

चक्रवात मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के सेवानिवृत्त मुख्य मौसम विज्ञानी डी.पी. दुबे ने बताया कि मंगलवार को ग्वालियर व चम्बल संभाग सहित प्रदेश के ज्यादातर जिलों में हुई बारिश को देखते हुए मौसम विभाग ने समय से पूर्व ही प्रदेश में मानसून सक्रिय होने की आधिकारिक घोषणा कर दी है। श्री दुबे ने बताया कि अभी रतलाम, मंदसौर और ग्वालियर के मध्य में ऊपरी हवाओं का एक चक्रवात बना हुआ है। हालांकि यह चक्रवात अब कमजोर पड़ गया है, लेकिन हवाओं में नमी बनी हुई है। इसके अलावा उड़ीसा के पास बंगाल की खाड़ी में एक और ऊपरी हवाओं का चक्रवात बन गया है, इसलिए अगले दो से तीन दिनों तक ग्वालियर व चम्बल संभाग सहित प्रदेश के अधिकांश जिलों में बारिश का क्रम जारी रहेगा।



Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top