Home > Lead Story > अरुण जी के निधन पर लिखा ये भावुक संदेश, पढ़े पूरी खबर

अरुण जी के निधन पर लिखा ये भावुक संदेश, पढ़े पूरी खबर

अरुण जी के निधन पर लिखा ये भावुक संदेश, पढ़े पूरी खबर

दिल्ली। पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार को एम्स में निधन हो गया। वह 66 वर्ष के थे। जेटली का कई सप्ताह से एम्स में इलाज चल रहा था। एम्स ने इसकी घोषणा करते हुए एक संक्षिप्त बयान में कहा कि हम बड़े दुख के साथ अरुण जेटली के निधन की जानकारी दे रहे हैं। जेटली को सांस लेने में दिक्कत और बेचैनी की शिकायत के बाद नौ अगस्त को यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया था। होम मिनिस्टर अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। वहीं जेटली के निधन पर राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, पीएम मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत कई नेताओं ने शोक प्रकट किया है।

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर शनिवार को कांग्रेस ने दुख जताया और उनके परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की। पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कहा, ''हमें अरुण जेटली जी के निधन के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ है। दुख की इस घड़ी में हमारी संवेदनाएं और प्रार्थना उनके परिवार के साथ हैं।

-पीएम मोदी ने दूसरे ट्वीट में कहा कि जीवन से भरपूर, बुद्धि से भरपूर, हास्य और करिश्मा की एक महान भावना अरुण जेटली जी को समाज के सभी वर्गों के लोगों ने सराहा। भारत के संविधान, इतिहास, सार्वजनिक नीति, शासन और प्रशासन के बारे में त्रुटिहीन ज्ञान होने से वह बहुआयामी थे।

-कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अरुण जेटली के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अरुण जेटली के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया। उन्होंने कहा कि जेटली ने एक जनता के नेता, सांसद और मंत्री के रूप में लंबी पारी खेली। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक जीवन में उनके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा।

-नीतीश ने पूर्व केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली के निधन पर शोक जताया

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज पूर्व केन्द्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। कुमार ने यहा अपने शोक संदेश में कहा है कि श्री अरूण जेटली विलक्षण प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने भारत सरकार में कई महत्वपूर्ण मंत्रालयों की जिम्मेदारियों का कुशलतापूर्वक निवर्हन किया। उन्होंने कहा कि वह एक उत्कृष्ट न्यायविद भी थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जेटली ने उच्च राजनीतिक मूल्यों एवं आदर्शों की बदौलत सार्वजनिक जीवन में उच्च शिखर को प्राप्त किया। साथ ही वह अपने व्यक्तित्व की बदौलत राजनीतिक सीमाओं के परे सभी विचारधारा के राजनीतिक दलों का आदर एवं सम्मान प्राप्त किया। उन्होंने कहा कि अरूण जेटली से उनका व्यक्तिगत संबंध था और उनके निधन से वह काफी ममार्हत हैं। कुमार ने कहा कि जेटली का निधन देश के लिये एक अपूरणीय क्षति है, जिसे कभी भरा नहीं जा सकता, उनकी कमी हमेशा खलेगी। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शान्ति तथा उनके परिजनों को दुख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

-देश ने स्पष्टवादी नेता खो दिया है : कमलनाथ

मध्यप्रेदश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। कमलनाथ ने अपने शोक संदेश में कहा कि वे उच्च कोटि के विधि विशेषज्ञ होने साथ ही एक उत्कृष्ट राजनेता थे और देशहित से जुड़े मुद्दों पर विचारों की स्पष्ट अभिव्यक्ति के कारण पहचाने जाते थे। कमलनाथ ने कहा कि देश ने एक स्पष्टवादी और तार्किक दृष्टिकोण रखने वाला नेता खो दिया है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों एवं नागरिकों को दुख सहने की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

-बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली जी का निधन मेरे लिए अत्यंत असहनीय है। अरुण जी ने अपना सम्पूर्ण जीवन समाज और बीजेपी को समर्पित कर दिया। विगत कई वर्षों में हर विषय पर उनका मार्गदर्शन मिला। ईश्वर पुण्य आत्मा को शान्ति प्रदान करें और एवं शोकाकुल परिजनों को शक्ति प्रदान करें।

-झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवार दास ने कहा कि अरुण जेटली जी के निधन से दुखी हूं। आज भारतीय जनता पार्टी ने परिवार के एक अभिन्न सदस्य को खो दिया। ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दे एवं शोक-संतप्त परिजनों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य व संबल प्रदान करें।

-राष्ट्रपति कोविन्द ने कहा कि अरुण जेटली, कठिन से कठिन कार्य को शांति, धैर्य और गहरी समझदारी के साथ पूरा करने का अद्भुत सामर्थ्य रखते थे। उनका देहावसान हमारे सार्वजनिक जीवन और बौद्धिक क्षेत्र के लिए बहुत बड़ी क्षति है। उनके परिवार और सहयोगियों के प्रति मेरी गहन शोक संवेदनाएं।

-राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि अरुण जेटली के देहावसान से मुझे गहरा दुख हुआ है। उन्होंने दृढ़ता और गरिमा से अपनी बीमारी का सामना किया। एक प्रखर वकील, अनुभवी सांसद और उत्कृष्ट मंत्री के रूप में उन्होंने राष्ट्र निर्माण में अमूल्य योगदान दिया।

-अरुण जेटली जी का निधन मेरी निजी क्षति है क्योंकि मेरे बड़े भाई अब मुझे छोड़कर चले गए। मैं इस गहरे दुख की घड़ी में उनके परिवार के साथ हूं।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top