Home > Lead Story > स्वतंत्र भारत के सपनों को साकार करने में सीआईएसएफ एक महत्वपूर्ण इकाई : प्रधानमंत्री

स्वतंत्र भारत के सपनों को साकार करने में सीआईएसएफ एक महत्वपूर्ण इकाई : प्रधानमंत्री

स्वतंत्र भारत के सपनों को साकार करने में सीआईएसएफ एक महत्वपूर्ण इकाई : प्रधानमंत्रीImage Credit : ANI Tweet

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के 50वें स्थापना दिवस पर आयोजित समारोह में हिस्सा लेने पहुंच गए हैं। मोदी सीआईएसएफ के सलामी गारद का निरीक्षण कर रहे हैं।

थोड़ी देर में प्रधानमंत्री मोदी छह अधिकारी और एक जवान को सम्मानित भी करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी के कार्यक्रम होने को लेकर सुरक्षा के इंतजाम मजबूत किए गिए हैं। एसपीजी के साथ 1000 पुलिस कर्मियों और सीआईएसएफ के करीब 12 सौ जवानों को लगाया गया है। हाईराइज बिल्डिंगों पर भी स्नाइपर तैनात किए गए हैं। बिना पास और आईडी के किसी को भी प्रवेश नहीं कर पाएंगे।

- स्वर्ण जयंती के इस महत्वपूर्ण पड़ाव पर पहुंचने के लिए आपको बहुत-बहुत बधाई। एक संगठन के नाते आपने जो 50 पचास वर्ष पूरे किये हैं वो प्रशंसनीय उपलब्धि है।

- यहां पहुंचने पर पीएम नरेंद्र मोदी को सीआईएसएफ की तरफ से परेड की सलामी दी गई।

- केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल से जुड़े आप सभी लोगों ने राष्ट्र की सम्पदा को सुरक्षित रखने में अहम् भूमिका निभाई है।

- नए भारत की नई और आधुनिक व्यवस्थाओं को सुरक्षित करने के लिए आप निरंतर आगे बढ़ रहे हैं।

- स्वतंत्र भारत के सपनों को साकार करने में सीआईएसएफ एक महत्वपूर्ण इकाई है।

- 50 साल तक लगातार हजारों लोगों ने आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए इसे विकसित किया है, तब जाकर ऐसा संगठन बनता है।

- एक संगठन को सुरक्षा देना, जहां 30 लाख तक लोग आते हों, जहां हर चेहरा अलग हो, सबका व्यवहार अलग हो। ये काम किसी वीआईपी को सुरक्षा देने से कई गुना बड़ा काम है।

- नागरिक अगर सहयोग ना करें तो आपका काम और मुश्किल हो जाता है, इसलिए नागरिकों को प्रशिक्षित करना ज़रूरी है।

- एयरपोर्ट और मेट्रो में सुरक्षा CISF के समर्पण से ही संभव हो पाई है।

- आपदाओं की स्थिति में भी आपका योगदान हमेशा से सराहनीय रहा है। केरल में आई भीषण बाढ़ में आपने राहत, बचाव के काम में दिन रात एक करके हजारों लोगों का जीवन बचाने में मदद की।

- देश में ही नहीं विदेश में भी जब मानवता संकट में आई है तब CISF ने अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभाई है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 7036 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top